Home » Loose Top » बारिश के पानी में कार डूब जाए तो क्या करें, जानिए ताकि कम हो नुक़सान
Loose Tech Loose Top

बारिश के पानी में कार डूब जाए तो क्या करें, जानिए ताकि कम हो नुक़सान

बारिश के मौसम में जगह-जगह पानी भरने की घटनाएँ आम हैं। सड़कों ही नहीं, कॉलोनियों, मोहल्लों और हाउसिंग सोसाइटी के अंदर भी पानी भरने की शिकायतें लगातार आ रही हैं। अक्सर बाढ़ जैसी इस हालत में कारें डूब जाती हैं। अगर आपकी कार भी ऐसी किसी मुसीबत में फँस गई हो तो क्या करें? कार सेफ़्टी एक्सपर्ट्स की सलाह पर हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं जिनके इस्तेमाल से आप न सिर्फ़ अपनी कार बल्कि, अपने जानमाल की भी सुरक्षा कर सकेंगे। यह भी पढ़ें: लंबे समय से पार्किंग में खड़ी है कार? तो फौरन करें ये जरूरी काम

कार के अंदर बैठे हों तो क्या करें?

  • ऐसी स्थिति तब होती है जब आप ट्रैफ़िक में होते हैं और किसी सड़क पर पानी भर रहा होता है।
  • अगर पानी में आपकी कार डूबने लगे तो फ़ौरन बाहर निकल जाए। थोड़ी देर बाद कार में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है, जिससे नींद आने लगती है और जान जा सकती है।
  • अगर कार में पानी चला गया तो शॉर्ट सर्किट हो सकता है, जिससे आप अंदर ही बंद भी हो सकते हैं। इस स्थिति से बचने के लिए कार में कोई छोटा हथौड़ा या पत्थर ज़रूर रखना चाहिए। जिससे ज़रूरत पड़ने पर शीशा तोड़ा जा सके।
  • याद रखें कि कार में आपकी सीट का हेडरेस्ट निकालकर भी आप शीशा तोड़ सकते हैं। इसमें नीचे लोहा लगा होता है जो सीट के अंदर रहता है।
  • किसी सड़क पर पानी एक लेवल से ज्यादा भरा हो तो उसे पार करने का जोखिम कभी नहीं लेना चाहिए। फिर भी अगर आप पक्का हैं कि निकल सकते हैं तो गाड़ी को पहले गियर में डालकर गति बिना बढ़ाए धीरे-धीरे पानी से बाहर निकालने की कोशिश करें। यह ध्यान रखना चाहिए कि इंजन की आरपीएम इतनी बनी रहे कि पानी से गुजरते हुए एग्जॉस्ट में इतना प्रेशर बना रहे, जिससे पानी एग्जॉस्ट में न घुसने पाए।
  • फिर भी गाड़ी बंद हो जाए तो रीस्टार्ट बिल्कुल न करें। बेहतर हो कि धक्का देकर बाहर निकालें। बाहर आने के बाद कुछ देर बाद कार के स्टार्ट होने की उम्मीद रहेगी।

कार कहीं पर खड़ी हो तो का करें?

  • पार्किंग में खड़े-खड़े कार डूब जाए तो पानी उतरने के बाद भी इंजन स्टार्ट करने की कोशिश बिल्कुल न करें।
  • ऑटोमैटिक रिमोट ओपनिंग वाली कार हो तो चाभी दूर रखें ताकि गाड़ी के सर्किट एक्टिव होने का ख़तरा न रहे।
  • मौक़ा मिलते ही कार को खींचकर या धक्का दिलवाकर पानी से बाहर निकालें, लेकिन स्टार्ट न करें।
  • किसी जानकार मैकेनिक को बुलाकर कार दिखाएं या क्रेन की मदद से सर्विस सेंटर तक पहुँचाएं।
  • ज़्यादातर कार बीमा कंपनियाँ डैशबोर्ड तक डूबने को कवर करती हैं। ऐसी स्थिति में कार के मैट से लेकर इंजन तक बदलने का बीमा होता है। हालाँकि कुछ पार्ट्स के मामले में बीमा कंपनियाँ इनकार कर सकती हैं।

(न्यूज़लूज़ टीम)

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...
Don`t copy text!