Home » Loose Top » पाकिस्तान में दफ़्तर के समय में नमाज़ पढ़ने पर पाबंदी!
Loose Top Loose World

पाकिस्तान में दफ़्तर के समय में नमाज़ पढ़ने पर पाबंदी!

मुस्लिम देश पाकिस्तान में अब दफ़्तर के समय में काम रोककर नमाज़ पढ़ने पर रोकटोक लागू की जा रही है। इसकी शुरुआत पाकिस्तान में काम करने वाली चाइनीज़ कंपनियों ने की है, जिन्होंने अपने कर्मचारियों पर दफ़्तर के समय के दौरान नमाज़ पढ़ने पर पाबंदी लगा दी है। इन कंपनियों ने मौखिक रूप से इस आदेश की जानकारी अपने पाकिस्तानी स्टाफ़ को दे दी है। ये ख़बर अपने आप में काफ़ी अहम है, क्योंकि पाकिस्तान में चल रही ज़्यादातर विदेशी कंपनियाँ चीन की हैं और उनमें लाखों की तादाद में कर्मचारी काम करते हैं। कई लोगों ने इस बारे में सोशल मीडिया पर लिखा है, लेकिन नौकरी जाने के डर से कोई कर्मचारी खुलकर सामने नहीं आ रहा। कुछ मौलवियों ने इस मामले पर सरकार से दखल की माँग की है। यह भी पढ़ें: ये कौन लोग हैं जो चीन के हमले से खुश हैं, आस्तीन के सांपों को पहचानिए

पाकिस्तान सरकार ने साधी चुप्पी

इस्लामाबाद और कराची ही नहीं, पाकिस्तान के लगभग सभी इलाक़ों में इन दिनों चीन की कंपनियाँ काम कर रही हैं। इनमें बड़ी संख्या में पाकिस्तानियों को रोज़गार मिला हुआ है। इन जगहों पर कई मौलवियों ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी करके यह जानकारी दी है कि कुछ हफ़्तों से इन दफ़्तरों में दोपहर में होने वाली नमाज़ का सिलसिला बंद है। यहाँ तक कि जुम्मे की नमाज़ पर भी बैन है। एक मौलवी ने अपने वीडियो में कहा है कि “ऐसा लगता है मानो हमारा मुल्क चाइनीजों का गुलाम बनता जा रहा है। हमारी सरकार भी इस मामले में दखल देने से ख़ुद को लाचार पा रही है।” पाकिस्तान सरकार ने अभी तक इस मामले में कोई औपचारिक बयान नहीं दिया है। यह भी पढ़ें: अबॉर्शन कराने में नंबर-1 है पाकिस्तान, जानिए क्यों

चीनी कंपनियों को लेकर बेचैनी

पाकिस्तान की एक अपनी वर्क कल्चर है। लेकिन चीन की कंपनियाँ इसके बिल्कुल उलट हैं। उनके लिए काम के 10 घंटे का मतलब पूरे 10 घंटे होते हैं। इस दौरान वो उनके आपस में किसी तरह बातचीत करने या गप्पें लड़ाने को भी पसंद नहीं करते। दफ़्तर में आने पर एक मिनट की भी देरी होने पर आधे दिन की सैलरी कटना आम बात है। इतना ही नहीं, चीन पाकिस्तान की संस्कृति और खानपान को भी बदल रहा है। पाकिस्तान में आने वाले चाइनीज़ लड़कों की नज़र वहाँ की लड़कियों पर होती है। ये एक तरह का लव जिहाद है जिसे लेकर पाकिस्तानी समाज में काफ़ी बेचैनी देखी जा रही है। अब तक हज़ारों पाकिस्तानी लड़कियाँ इस तरह से चीन के हत्थे चढ़ चुकी हैं। यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में मुस्लिम लड़कियों से लव जिहाद कर रहा है चीन

नीचे एक चाइनीज़ कंपनी में काम करने वाले पाकिस्तानी ड्राइवर की पिटाई का वीडियो आप देख सकते हैं। पाकिस्तान में पिछले एक हफ़्ते से ये वीडियो खूब वायरल हो रहा है।

(न्यूज़लूज़ टीम)

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें


कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

अपनी लिखी पोस्ट या जानकारी साझा करें 

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Donate to Newsloose.com

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें

Popular This Week

Don`t copy text!