Home » Loose World » ये हैं चीन के ’42 चोर’, देखिए आपके मोबाइल फ़ोन में भी सेंध तो नहीं लग गई!
Loose World

ये हैं चीन के ’42 चोर’, देखिए आपके मोबाइल फ़ोन में भी सेंध तो नहीं लग गई!

चीन के मोबाइल एप का ख़तरा बढ़ता जा रहा है। भारत के साथ बढ़ते तनाव के बीच यह बात सामने आई है कि चीन इन एप का इस्तेमाल जासूसी में कर रहा है। फ़ाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसियों ने ऐसे 42 एप की लिस्ट जारी की है, जिनकी गतिविधियाँ संदिग्ध हैं। इनमें से ज़्यादातर वो हैं जिनके सर्वर चीन में हैं। ये एप अकाउंट से पैसा निकालने और बिना जानकारी के तस्वीरें खींचने और उन्हें सीधे सर्वर पर भेजने जैसी कामों में शामिल हैं। जो सबसे बड़ा ख़तरा है वो है साइबर अटैक का। चीन इन एप से लगातार ऐसे आँकड़े बटोर रहा है जो किसी भी साइबर हमले में काम आते हैं। भारतीय सेना, अर्धसैनिक बलों और सुरक्षा से जुड़ी दूसरी एजेंसियों से कहा गया है कि वो इस बारे में अपने कर्मचारियों को सतर्क कर दें। दिलचस्प बात है कि जासूसी करने वाले ऐसे ज्यादातर ऐप या तो एंटी-वायरस या वेब-ब्राउजिंग एप के नाम पर चल रहे हैं।

चीन के एप बने बड़ा ख़तरा

RAW और NTRO के सर्विलांस के अनुसार पिछले कुछ हफ़्तों से उनकी गतिविधियाँ बेहद संदिग्ध हैं। ज़्यादातर एप में अपडेट्स भेजे गए हैं। मीडिया में प्रकाशित गृह मंत्रालय की एडवाइज़री में कहा गया है कि “हमारे पास विश्वसनीय इनपुट्स हैं कि चीन या चीन के लिंक वाले कुछ एंड्रॉयड और आईफ़ोन (IOS) एप वास्तव में spyware या malicious ware का काम कर रहे हैं। अगर आप राष्ट्रीय सुरक्षा या रणनीतिक कामों से जुड़े हैं तो इन एप को फौरन हटा दें।” जिस तरह के खतरे इसमें बताए गए हैं यह आम लोगों के लिए भी ठीक नहीं है। उदाहण के लिए एंड्रॉयड पर एक ऐसा एंटरटेनमेंट एप पाया गया जो लोकेशन की जानकारी लेता है। अगर आपके फोन में यह एप है तो किसी भी संवेदनशील या महत्वपूर्ण इलाके में पहुंचते ही मोबाइल का कैमरा ऑन हो जाता है और तस्वीरें खिंचनी शुरू हो जाती हैं। ऐसी तस्वीरें मोबाइल के हार्ड ड्राइव में नहीं बल्कि सीधे सर्वर में सेव होती हैं, जिससे जासूसी का पता नहीं चलता। इस एप को गूगल प्ले-स्टोर से हटवा दिया गया है। अगर ऐसा कोई एप आपके जरिए जासूसी करता है तो कानून के हिसाब से आप भी दोषी ठहराए जा सकते हैं।

ये है जासूसी वाले 42 एप

Weibo
WeChat
WeSync
SHAREit
Truecaller
UC News
UC Browser
BeautyPlus
NewsDog
VivaVideo
QU Video Inc
Parallel Space
APUS Browser
Perfect Corp
Virus Cleaner (Hi Security Lab)
CM Browser
Mi Community
Mi Store
Mi Video call-Xiaomi
Vault-Hide
YouCam Makeup
CacheClear DU apps studio
DU recorder
DU Battery Saver
DU Cleaner
DU Privacy
DU Browser
360 Security
Clean Master – Cheetah Mobile
Baidu Translate
Baidu Map
Wonder Camera
ES File Explorer
Photo Wonder
QQ International
QQ Music
QQ Mail
QQ Player
QQ NewsFeed
QQ Security Centre
QQ Launcher
SelfieCity
Mail Master

लॉकडाउन के कारण हाल के दिनों में चर्चा में रहे ज़ूम (Zoom App) का नाम इस लिस्ट में नहीं है। इसका कारण बताया जा रहा है कि इस एप का सर्वर अमेरिका में है। हालांकि इसकी जांच भी जारी है। लिस्ट में शामिल कुछ एप्स ने पकड़े जाने पर अपने डेटा को चीन के बाहर के सर्वर पर शिफ्ट कर दिया। उदाहरण के लिए ट्रूकॉलर (TrueCaller) ने बयान जारी करके कहा हम स्वीडन की कंपनी हैं। इसी तरह श्याओमी (Xiaomi) का कहना है कि उनका सारा डेटा कैलीफोर्निया में एमेजॉन के डेटा सेंटर में भेजा जाता है। इस लिस्ट में टिकटॉक जैसे एप के नाम नहीं हैं क्योंकि उनके खिलाफ जासूसी का कोई सबूत नहीं मिला है। हालांकि चीन की कंपनी होने के नाते भविष्य में टिकटॉक या उसकी कंपनी बाइटडांस के एप जैसे बज़वीडियो और वीगो वीडियोज़ पर कभी भरोसा नहीं किया जा सकता।

जाने-माने शिक्षाविद सोनम वांगचुक ने भी एक वीडियो मैसेज जारी करके लोगों से एक सप्ताह के अंदर सभी मोबाइल एप डिलीट करने की अपील की है:

(न्यूज़लूज़ टीम)

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें


कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

अपनी लिखी पोस्ट या जानकारी साझा करें 

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Donate to Newsloose.com

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें

Popular This Week

Don`t copy text!