Home » Loose Top » मोदी विरोधी मोर्चा बनवा रहे हैं यूपी के आसाराम!
Loose Top

मोदी विरोधी मोर्चा बनवा रहे हैं यूपी के आसाराम!

प्रमोद कृष्णम
बायीं तस्वीर पिछले दिनों मुलायम और प्रमोद कृष्णम की मुलाकात की है। दायीं तरफ संभल में बाबा के आश्रम में हुए अश्लील डांस प्रोग्राम की तस्वीर है।

यूपी का आसाराम कहे जाने वाला कथित बाबा प्रमोद कृष्णम इन दिनों मोदी-विरोधी महागठबंधन बनवाने के अभियान में जुटा है। बाबा ने पिछले दिनों में मुलायम सिंह यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से भी इस सिलसिले में मुलाकात की है। कांग्रेस और सपा के अलावा आरएलडी और कुछ दूसरी छोटी पार्टियों को साथ लाकर यूपी में महागठबंधन बनाने की कोशिश हो रही है। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं है कि क्या बीएसपी को भी इस मोर्चे में शामिल करने की कोशिश हो रही है या नहीं।

कांग्रेस और मुलायम के बीच कड़ी

प्रमोद कृष्णम इन दिनों कांग्रेस हाईकमान और मुलायम सिंह यादव के बीच बातचीत की कड़ी बना हुआ है। दरअसल कांग्रेस ने यूपी में जोरशोर से अपना चुनावी अभियान शुरू कर रखा है। पार्टी ने शीला दीक्षित को सीएम कैंडिडेट भी घोषित कर डाला। इससे मुलायम सिंह यादव असहज स्थिति में हैं। पिछले दिनों यूपी में कांग्रेस की रैलियों में बीजेपी और बीएसपी के अलावा समाजवादी पार्टी पर भी जमकर हमले बोले गए। इसलिए मुलायम चाहते हैं कि कांग्रेस इस मामले में अपने कदम पीछे खींचे। विवाद के बीच बाबा प्रमोद कृष्णम संदेशवाहक बना हुआ है। हालांकि प्रमोद कृष्णम को मुलायम परिवार में झगड़े का कारण भी माना जाता है। इस बाबा ने ही शिवपाल यादव को भड़काया था कि अब उनके मुख्यमंत्री बनने का वक्त आ गया है।

पढ़ें: मुलायम परिवार के झगड़े में है इस बाबा का हाथ

कौन है बाबा प्रमोद कृष्णम?

प्रमोद कृष्णम का असली नाम प्रमोद त्यागी है। पश्चिमी यूपी में उसकी पहचान कांग्रेस पार्टी के छुटभैये नेता के तौर पर थी। राजनीति में जब दांव नहीं चला तो उसने धर्मगुरु का चोला ओढ़ लिया और अपना नाम बदलकर आचार्य प्रमोद कृष्णम रख लिया। इसके बाद उसने हिंदू धर्म के खिलाफ बोलना शुरू कर दिया। इस कारण वो कांग्रेस, समाजवादी पार्टी जैसे सेकुलर पार्टियों में काफी लोकप्रिय भी हो गया। हिंदू धर्म गुरु होकर भी हिंदू धर्म के खिलाफ बोलने की उसकी खूबी के कारण ही 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रमोद कृष्ण को कांग्रेस ने संभल सीट से उम्मीदवार भी बनाया। लेकिन वो पांचवें नंबर पर आया। फिलहाल प्रमोद कृष्णम उर्फ प्रमोद त्यागी समाजवादी पार्टी के टिकट पर विधानसभा पहुंचने की फिराक में है। प्रमोद कृष्णम का न्यूज़लूज पर हमने सबसे पहले भंडाफोड़ किया था। इसके बाद से प्रमोद कृष्णम को यूपी का आसाराम कहा जाने लगा है। हमारी वो रिपोर्ट आप नीचे के लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं:

पढ़ें: बाबा प्रमोद कृष्णम की अय्याशी की पोल कब खुलेगी?

हिंदू धर्म के नाम पर जालसाजी

प्रमोद कृष्णम यूपी के संभल में भगवान कल्कि के नाम से आश्रम चलाता है और खुद को कल्कि पीठाधीश्वर कहलवाता है। जबकि कल्कि एक काल्पनिक भगवान हैं और उनका अवतार होना अभी बाकी है। हिंदू मान्यताओं के मुताबिक कल्कि का अवतार कलयुग के आखिरी चरण में होगा। गणनाओं के हिसाब से यह अवतार 4,320वीं शताब्दी में होगा। इसके साथ ही कलियुग का अंत हो जाएगा। लेकिन प्रमोद कृष्णम ने बाकी सारे भगवान छोड़कर कल्कि को चुना ताकि वो इनके दम पर अपनी दुकान पहले से ही जमा सके। इस साल के कल्कि महोत्सव में तो राधे मां को भी नाचने के लिए बुलाया गया था।

आश्रम में चलता है अय्याशी का अड्डा

प्रमोद कृष्णम को करीब से जानने वाले उसको यूपी का आसाराम कहते हैं। कई महिलाओं के यौन शोषण और बलात्कार जैसे आरोप उस पर लगते रहे हैं। यूपी में एक कॉल गर्ल रैकेट चलाने का भी इस बाबा पर आरोप लग चुका है। प्रमोद कृष्णम हर साल भगवान कल्कि के नाम पर एक महोत्सव भी कराता है, जिसमें आसाराम के आश्रमों की तर्ज पर अश्लील नाच-गाना होता है। इस समारोह में दिग्विजय सिंह और कुमार विश्वास जैसे लोग भी पहुंचते रहे हैं। सवाल ये है कि हिंदू धर्म के एक भावी अवतार के नाम पर ऐसे घिनौने नाच गाने की कैसे छूट दी जा सकती है।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें


कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

अपनी लिखी पोस्ट या जानकारी साझा करें 

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Donate to Newsloose.com

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें

Popular This Week

Don`t copy text!