Home » Loose Top » इरफान खान को नहीं डरा पाए मीडिया और कठमुल्ले
Loose Top

इरफान खान को नहीं डरा पाए मीडिया और कठमुल्ले

इस्लाम की बुराइयों पर बयान देने के बाद मुसलमानों का एक बड़ा तबका इरफान खान के पीछे पड़ गया है। खास तौर पर कई मौलवियों ने इरफान को धमकी के लहजे में जुबान बंद रखने को कहा है। लेकिन इरफान ने इन तमाम धमकियों और फतवा के आगे झुकने से इनकार कर दिया है। इरफान ने आज शाम तीन ट्वीट किए, जिनमें उन्होंने साफ-साफ लिखा है-


प्लीज भाइयों, आप जो मेरे बयान से दुखी हो, या तो आप आत्मचिंतन करने को तैयार नहीं हो या आप बिना सोचे-समझे नतीजे पर पहुंच जाने की हड़बड़ी में हो। मेरे लिए धर्म का मतलब आत्मचिंतन है। इससे दया और बुद्धि प्राप्त होती है। इसका पोंगापंथी या कट्टरपंथ से कोई वास्ता नहीं।
मौलवियों मुझे डराओ मत!!! मैं भगवान का शुक्र अदा करता हूं कि मैं ऐसे देश में नहीं रहता जिसे मज़हब के ठेकेदार चलाते हों।

इरफान को मीडिया का भी साथ नहीं

इस्लाम पर इरफान ने जो कुछ कहा उस पर मुसलमानों में भी कई लोग उनके समर्थन में खुलकर सामने आ रहे हैं। लेकिन मीडिया का रवैया बेहद चौंकाने वाला है। ज्यादातर हिंदी अखबारों ने इरफान के बयान को विवादित करार दिया है। इसके बावजूद इरफान ने कठमुल्लाओं के खिलाफ आवाज उठाने की जो हिम्मत दिखाई है वो काबिल-ए-तारीफ है।

कट्टरपंथियों के निशाने पर इरफान

बीते दो दिनों में देश के तमाम कट्टरपंथी मुस्लिम नेता और संगठन धमकी वाले लहजे में इरफान को चेतावनी दे चुके हैं। लेकिन उनके पक्ष में कोई तथाकथित धर्मनिरपेक्ष बुद्धिजीवी सामने नहीं आया है। कई लोग इरफान के बयान को यह कहकर खारिज करने की कोशिश भी कर रहे हैं कि वो अपनी आने वाली फिल्म मदारी के प्रमोशन के लिए ऐसा कह रहे हैं। हालांकि मुसलमानों में ही एक तबका उनके पक्ष में भी आगे आ रहा है।

anwar

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...
Don`t copy text!