Home » Loose Top » अब लड़ाई के मैदान में भी कीजिए सैर-सपाटा!
Loose Top Loose World

अब लड़ाई के मैदान में भी कीजिए सैर-सपाटा!

क्या आप जंग में तबाह हो चुके सीरिया या इराक के शहर की सैर पर जाना चाहेंगे? क्या आप वहां जाकर देखना चाहेंगे कि कैसे बड़े-बड़े बमों ने देखते ही देखते बसे-बसाये शहर को खंडहरों में बदल डाला? हो सकता है आप इसके लिए तैयार न हों, लेकिन दुनिया में कई लोग बरबादी का मंजर देखना पसंद करते हैं और ऐसे ही लोगों से पैसे लेकर आतंकवादी उन्हें इन इलाकों में सैर करवाते हैं। इसे कहा जा रहा है टेरर टूरिज़्म।

क्या है टेरर टूरिज़्म?

दरअसल अल कायदा के सहयोगी संगठन अल शबाब ने टेरर टूरिज़्म की थीम पर एक वीडियो जारी किया है। इसमें एडवेंचर टूरिज़्म के शौकीन लोगों के लिए ऑफर्स की जानकारी दी गई है। इस वीडियो के मुताबिक लोग चाहें तो आतंकी बनने की ट्रेनिंग, ट्रैकिंग, स्विमिंग, बम प्लांटिंग, फायरिंग कर सकते हैं। इसके अलावा उन्हें बंकरों में रहने का मौका मिलेगा, जहां पर आतंकवादी रहते हैं।

कौन लोग हैं टारगेट?

दरअसल सऊदी अरब जैसे खाड़ी के कई देशों के अमीरों में लड़ाई को लेकर बहुत क्रेज़ है। ये लोग हजारों डॉलर देकर लड़ाई का एक्सपीरियंस लेने को तैयार हैं। यहां तक कि कुछ ज्यादा पैसे देने पर युद्धबंदियों की हत्या करने और विरोधी खेमे पर गोलीबारी करने का भी मौका दिया जाता है। यह खबर भी है कि अरब देशों के कई धन्नासेठों ने इस तरह के टूर पैकेज का मज़ा लिया है।

syria

आतंक का ‘एडवेंचर टूरिज़्म’

लंबी लड़ाई की वजह से कई आतंकी संगठनों के पास फंड की भारी कमी हो गई है। ऐसे में उन्हें कमाई बढ़ाने के लिए टेरर टूरिज्म का सहारा लेना पड़ रहा है। खास तौर पर खाड़ी और अफ्रीकी देशों के आतंकी संगठनों में यह ट्रेंड देखा जा रहा है। ऐसे टूर पैकेज का प्रचार भी वो काफी गुपचुप तरीके से ही करते हैं और अक्सर भरोसे के लोगों को ही अपने साथ ले जाते हैं।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...
Don`t copy text!