Home » Loose Top » लालू को ‘भ्रष्ट’ कहने पर केजरीवाल ने निकाला
Loose Top

लालू को ‘भ्रष्ट’ कहने पर केजरीवाल ने निकाला

आम आदमी पार्टी ने एनआरआई सेल के सह संयोजक डॉ. मुनीष रायजादा को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। उन पर ‘पार्टी विरोधी’ गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया गया है। मुनीष रायजादा लालू यादव को आम आदमी पार्टी के समर्थन से नाराज़ थे और वो खुलकर इसके विरोध में राय जता रहे थे। उन्होंने आप की अमेरिका यूनिट में लोकपाल नियुक्त किया था, जिसे लेकर अरविंद केजरीवाल नाराज़ चल रहे थे। रायजादा शिकागो के रहने वाले हैं और इंडिया अगेंस्ट करप्शन के दिनों से केजरीवाल से जुड़े थे।

बिहार पर केजरीवाल के रुख़ से नाराजगी

मुनीष रायजादा ने Lokpal.us नाम से एक वेबसाइट शुरू की थी, जिस पर उन्होंने लालू यादव को ‘सज़ायाफ़्ता भ्रष्ट अपराधी’ ‘a convicted corrupt criminal’ लिखा था। ऐसा करना उन्हें भारी पड़ गया और पार्टी ने 7 नवंबर को एक नोटिस जारी करके पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप लगाया। डॉ. रायजादा ने इसका जवाब 9 नवंबर को भेज दिया और भरोसा दिलाया कि वह ऐसा कोई काम नहीं कर रहे हैं जिससे आम आदमी पार्टी को नुकसान हो। उन्होंने इस ईमेल में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में पूरा भरोसा भी जताया। लेकिन आप अनुशासन समिति ने उनकी सफाई को खारिज कर दिया और उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया।

डॉ. रायजादा को आम आदमी पार्टी की तरफ से भेजा गया नोटिस और उसका जवाब।
डॉ. रायजादा को आम आदमी पार्टी की तरफ से भेजा गया नोटिस और उसका जवाब।


कौन हैं डॉक्टर मुनीष रायजादा?

डॉ. रायजादा अमेरिका के जाने-माने चिकित्सक हैं। वो दिल्ली के स्वास्थ मंत्री सत्येंद्र जैन के मानद सलाहकार भी हैं। फिलहाल वो आम आदमी पार्टी के एनआरआई सेल के सह-संयोजक का काम संभाल रहे थे। 2014 के लोकसभा चुनाव के वक्त उनके चंडीगढ़ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की चर्चाएं भी थीं। न्यूज़ और पॉलिटिक्स में उनकी बहुत रुचि है और वो NewsGram.Com नाम से एक वेबसाइट के एडिटर भी हैं।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...
Don`t copy text!