Home » Loose Top » दिल्ली की हवा में फैले जहर की वजह से हर रोज हो रही है 80 लोगों की मौत
Loose Top

दिल्ली की हवा में फैले जहर की वजह से हर रोज हो रही है 80 लोगों की मौत

prakash jawadekarअगर आप दिल्ली में रहते हैं तो हर वक्त आप अपनी सांसों में जहर की डोज़ ले रहे हैं। एक सर्वे के मुताबिक दिल्ली में हर रोज 80 लोगों की मौत प्रदूषण की वजह से हो रही है। केंद्र सरकार ने ये जानकारी राज्यसभा में दी है। एक लिखित सवाल के जवाब में केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने बताया है कि प्रदूषित हवा और सांस के रास्ते शरीर में पहुंचने वाले सस्पेंडेड पार्टिकल्स लोगों की मौत की सबसे बड़ी वजह हैं। 80 लोगों की मौत प्रदूषण से पैदा होने वाली बीमारियों की वजह से हो रही हैं। इस हिसाब से प्रदूषण के कारण दिल्ली में हर साल 10 हजार से 30 हजार लोगों की जान जा रही है। WHO की एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया के 20 सबसे प्रदूषित शहरों की लिस्ट में 13 शहर भारत के हैं। इनमें दिल्ली सबसे ऊपर है और उसके बाद पटना, रायपुर और ग्वालियर का नंबर आता है।

pollution2

हैरत की बात ये है कि जब सरकार के पास सारे फैक्ट्स हैं तब भी बीते कुछ सालों में ऐसा कोई स्टेप नहीं लिया गया जिससे दिल्ली की हवा में फैले इस जहर को कुछ कम किया जा सके। इससे पहले कॉमनवेल्थ गेम्स से पहले दिल्ली की हवा में घुले जहर को कम करने के लिए सीएनजी लाई गई थी, लेकिन बाद में डीजल की गाड़ियों को इतना बढ़ावा दिया गया कि सड़कों पर हवा में पॉल्यूशन की आज सबसे बड़ी वजह डीजल की गाड़ियां ही बन चुकी हैं। हालात इतने खराब हैं कि न तो केंद्र सरकार और न ही दिल्ली सरकार इस मामले में कोई बड़ी पहल करने को तैयार हैं।

pollution

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...
Don`t copy text!