Home » Loose Top » बैंगलोर में इस इलाके में गैस का चूल्हा बन गई जमीन! बिना सिलेंडर बन रहा है खाना
Loose Top

बैंगलोर में इस इलाके में गैस का चूल्हा बन गई जमीन! बिना सिलेंडर बन रहा है खाना

Anekal-2बैंगलोर के बाहरी इलाके अनेकल रोड में इन दिनों लोग दहशत में जी रहे हैं। वजह ये है कि पूरे इलाके में कहीं पर भी जमीन में छेद या गड्ढा बना दो वहां आग लग जाती है। यहां तक कि कई जगह पानी से भी बुलबुले उठते दिख रहे हैं, जब वहां पर कोई भी कागज या जलने लायक चीज ले जाई जाती है तो वो फौरन लपट पकड़ लेती है। ऐसा लगता है जैसे पूरा का पूरा इलाका गैस के सिलेंडर पर हो। हालत ये कि कई जगहों पर लोगों ने जमीन में छेद करके गैस पर खाना भी पकाना शुरू कर दिया। खाना पकाते वक्त लोग छेद को खोल देते हैं और बाद में मिट्टी डालकर उसे बंद कर देते हैं। लेकिन लोगों को ऐसा करने से मना किया गया है। क्योंकि ये पता नहीं है कि कहां पर गैस का प्रेशर कितना है। अगर उस जगह पर मीथेन बहुत ज्यादा स्टोर है तो कभी भी ब्लास्ट हो सकता है और आग फैल सकती है। लेकिन एडमिनिस्ट्रेशन की सलाह का लोगों पर खास असर देखने को नहीं मिल रहा है।

Anekal-1

मामला सामने आने के बाद जांच में जो पता चला वो चौंकाने वाला था। दरअसल यहां लक्ष्मीपुरा इलाके में बृहत बेंगलुरु महानगर पालिका (BBMP) कई साल तक कचरा डंप करती रही थी। इतने साल तक जमीन में पड़ा-पड़ा कचरा जब सड़ने लगा तो उससे मीथेन गैस निकलनी शुरू हो गई। ये मीथेन गैस काफी समय तक तो जमीन के अंदर ही दबी रही, लेकिन अब ये बाहर निकलने लगी है। आग लगने की घटनाएं मीथेन की वजह से ही हो रही हैं। जमीन तो जमीन यहां की एक झील में भी अचानक झाग उठना शुरू हो गया। थोड़ी ही देर में इस झाग में आग लग गई।

Anekal-3

जहां पर मीथेन गैस ज्यादा वहां पर आग लग जा रही है, लेकिन मुश्किल ये है कि ये गैस हवा से भारी होती है। ये गैस हवा में घुलकर लोगों की सेहत भी खराब कर रही है। मीथेन से लोगों के फेफड़े खराब हो रहे हैं। मिट्टी से लेकर ग्राउंड वॉटर तक बुरी तरह पॉल्यूटेड हो चुका है। ये हालत पैदा हुई है unscientific तरीके से कचरे को जमीन में फेंकने की वजह से। अब एडमिनिस्ट्रेशन को समझ में नहीं आ रहा है कि इस मुसीबत का क्या हल निकालें। कुछ जगहों पर जमीन पर और भी मिट्टी डालकर लीपापोती करने की कोशिश की गई है। लेकिन इससे कोई हल निकलेगा इसकी उम्मीद कम ही है। इस बारे में लोकल टीवी चैनल सुवर्णा न्यूज की ये रिपोर्ट देखिए।

[corner-ad id=1]
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...
Don`t copy text!