Urban Naxal

जानिए क्यों भारत के टुकड़े-टुकड़े चाहते हैं शहरी नक्सली

“भारत तेरे टुकड़े होंगे… इंशा अल्लाह… इंशा अल्लाह”… शहरी नक्सलियों का यही अरमान है। सवाल उठता है कि आखिर इनके मन में भारत के टुकड़े-टुकड़े करने का ये विचार आया कहां से? जैसे ही आप किसी वामपंथी के सामने राष्ट्र…


Don`t copy text!