Ravish Kumar

बधाई हो रवीश कुमार, ‘बलात्कारी’ भाई बच गया!

दिल्ली की सेकुलर मीडिया के लिए ये राहत वाली खबर है। पत्रकार रवीश कुमार के बड़े भाई और कांग्रेस पार्टी के नेता ब्रजेश कुमार पांडेय को नाबालिग दलित लड़की से बलात्कार के मामले में राहत मिल गई है। उसे सुप्रीम…


बलात्कारी बाबा जेल गया, ‘बलात्कारी भाई’ बच जाएगा!

डेरा सच्चा सौदा के बाबा गुरमीत राम रहीम के बलात्कार के केस में दोषी ठहराए जाने के बाद ऐसे दूसरे मामलों में भी इंसाफ की उम्मीद जगी है। हालांकि बलात्कार के ऐसे कई हाईप्रोफाइल मामले हैं जिनमें रसूख का इस्तेमाल…


छह महीने बीत गए, रवीश का भाई कब सरेंडर करेगा?

हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष सुभाष बराला का बेटा विकास बराला छेड़खानी के मामले में जेल चला गया। मामला एक हाईप्रोफाइल नेता का था, इसलिए मीडिया से लेकर जनता तक ने दबाव बनाया और पुलिस को कार्रवाई करनी पड़ी। लेकिन बात…


देखिए कैसे फेक न्यूज़ फैलाते हैं एनडीटीवी के पत्रकार

कुछ दिन पहले एनडीटीवी ने फेक न्यूज़ यानी फर्जी खबरों के खिलाफ अभियान चलाया था। इसमें बताया गया था कि किस तरह से फर्जी खबरों के कारण लोगों का भरोसा अखबारों और चैनलों में कम होता जा रहा है। यह…


रवीश कुमार के भाई का सेक्स स्कैंडल रफा-दफा!

जैसी कि उम्मीद थी वही होता दिख रहा है। खबर है कि एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार के सगे भाई ब्रजेश कुमार पांडेय के सेक्स रैकेट का मामला रफा-दफा होने की उम्मीद है। खबर है कि पीड़ित लड़की पर दबाव…


रवीश कुमार की ये ‘बहन’ आजकल विवादों में क्यों हैं!

एनडीटीवी चैनल के पत्रकार रवीश कुमार के परिवार के एक और कथित सदस्य को लेकर गंभीर आरोप लगे हैं। सोशल मीडिया पर ऐसी खबरें चल रही हैं कि रवीश कुमार की बहन नीता कुमारी पांडेय भ्रष्टाचार के केस में नौकरी…


भगोड़े भैयाजी के नाम रवीश कुमार का खुला पत्र

एनडीटीवी के कथित पत्रकार रवीश कुमार के भाई ब्रजेश कुमार पांडेय का बिहार पुलिस अब तक पता नहीं लगा पाई है। बिहार कांग्रेस का उपाध्यक्ष रहा ब्रजेश पांडेय सेक्स रैकेट के मामले में नाम सामने आने के बाद से फरार…


कविता: रवीश पांडेय के नाम एक दलित बच्ची की चिट्ठी

एनडीटीवी वाले रवीश पांडेय, हाँ हाँ वही रवीश कुमार, को पीड़ित दलित लड़की की चिट्ठी। बलात्कार के आरोपी सगे बड़े भाई के नाम पर। “सिर्फ नाम बदला है इस बार वरना मैं वही दलित लड़की हूँ जो बार बार तुम्हारी…


रवीश कुमार के भाई के सेक्स रैकेट की पूरी कहानी

पत्रकार रवीश कुमार के भाई ब्रजेश पांडेय के सेक्स रैकेट में कई बेहद अहम खुलासे हुए हैं। केस में बड़ी बात ये सामने आ रही है कि रवीश कुमार के रसूख के चलते उनके भाई का नाम काफी दिनों तक…


चलो रवीश को बचाएं, दलित बच्ची को बदनाम करें!

ज़बरदस्ती में भाई लोग एनडीटीवी वाले रवीश पांडेय के पीछे पड़ गए हैं। अरे भई, हाँ। रवीश कुमार। अब खानदानी नाम रवीश पांडेय है तो क्या हुआ? सेक्युलर हैं। सर्वहारा समाज के प्रतिनिधि हैं। रवीश कुमार ही सूट करता है।…


सेक्स रैकेट में धरा गया रवीश कुमार का कांग्रेसी भाई

बिहार में कांग्रेस के नेता और एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार के सगे बड़े भाई ब्रजेश कुमार पांडेय का नाम सेक्स रैकेट चलाने में सामने आया है। मामला राज्य के एक पूर्व मंत्री और दलित कांग्रेसी नेता की नाबालिग बेटी…


पंजाब में एनडीटीवी ने आप के लिए ‘प्रचार’ शुरू किया

जानकर शायद आपको हैरानी होगी, लेकिन न्यूज चैनल एनडीटीवी ने पंजाब विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के लिए प्रचार की जिम्मेदारी संभाल ली है। एनडीटीवी चैनल पर बीते कुछ दिनों में आम आदमी पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने…


रवीश जी, पीएम के भाई से कार में तेल भरवाइएगा?

एक वक़्त था जब प्रोफेसर राम गोपाल यादव के पास साइकिल खरीदने के पैसे नही थे लेकिन आज वो चार्टर्ड प्लेन से उड़ते हैं। मुलायम के छोटे भाई शिवपाल की तंगहाली का आलम तो ये था कि उन्होंने चमड़े के…


फिर सामने आया रवीश कुमार का ‘कांग्रेसी कनेक्शन’

एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार के कांग्रेस पार्टी से रिश्ते एक बार फिर उजागर हुए हैं। पिछले दिनों रवीश कुमार ने दिल्ली के चांदनी चौक जाकर नोटबंदी के बारे में वहां के कारोबारियों की प्रतिक्रिया जानने की कोशिश की। इस…


रवीश जी आपका पाखंड भी देश देख रहा है

झूठे तथ्यों को आगे रखकर कैसे तय एजेंडे के तहत चर्चा की जाती है, इसका एक नमूना अभी रवीश कुमार के प्राइम टाइम में देखने को मिला। जब मैंने चर्चा देखनी शुरू की तो स्टूडियो में मौजूद संवाददाता इकबाल बता…


रवीश जी, एक खुली चिट्ठी बरखा दत्त को भी भेजो

देश में दलालों की, खासकर पत्रकार के भेष में दलालों की कोई कमी नहीं है। मगर दलाली में डूबे चैनल का पत्रकार अगर किसी पत्रकार के मंत्री बनने पर सवाल उठाता है, खुली चिट्ठी लिखता है तो हंसी के साथ…


रवीश जी, आपको अपने गांव की ‘निर्भया’ नहीं दिखती?

बिहार के एक स्वनामधन्य जनता के पत्रकार जिनका माइक तुरंत निठारी तो पहुँच जाता है लेकिन बिहार में वो अपने ही गांव जहाँ वो खुद पैदा हुए वहां की निर्भया को देखने… उसे बचाने और उसके साथ बर्बरता के साथ…