Jinnah

डायरेक्ट एक्शन डे, इतिहास का सबसे बड़ा नरसंहार

एक तरफ देश की आजादी की तैयारियां चल रही थीं, दूसरी तरफ मोहम्मद अली जिन्ना बंटवारे के लिए दबाव बनाए हुए था। उसने साफ कह दिया था कि पाकिस्तान से कम पर उसे कुछ भी मंजूर नहीं। 29 जुलाई 1946…