Home » Loose Top » “तुम देश जला दोगे तो हम क्या देखते रहेंगे…” मुंबई के टैक्सीवाले की कहानी
Loose Top

“तुम देश जला दोगे तो हम क्या देखते रहेंगे…” मुंबई के टैक्सीवाले की कहानी

रोहित को सम्मानित करते मुंबई बीजेपी के अध्यक्ष एमपी लोढ़ा।

मुंबई में उबर टैक्सी के ड्राइवर रोहित सिंह गौर को बीजेपी ने सम्मानित किया है। रोहित वो टैक्सीवाले हैं जिन्होंने कुछ दिन पहले “देश जलाने की बात कर रहे” एक यात्री को सीधा हवालात पहुँचा दिया था। मुंबई बीजेपी के प्रमुख एमपी लोढ़ा ने उन्हें सतर्क नागरिक सम्मान दिया। बुधवार 5 फ़रवरी की रात जयपुर से आए वामपंथी बप्पादित्य सरकार ने जुहू से कुर्ला जाने के लिए कैबिनेट बुक की थी। उसका दावा है कि वो काला घोड़ा आर्ट फ़ेस्टिवल में हिस्सा लेने के लिए मुंबई आया है। रोहित ने रास्ते में सुना कि टैक्सी में बैठा व्यक्ति फ़ोन पर किसी से बातचीत कर रहा है। वो नागरिकता क़ानून के बारे में बात कर रहा था। रोहित के मुताबिक़ “वो आदमी मुंबई में आंदोलन और तेज़ करने के बारे में बात कर रहा था और बोल रहा था कि हम पूरा देश जला देंगे।” यह सुनते ही रोहित सतर्क हो गए और उन्होंने अपने मोबाइल फ़ोन का ऑडियो रिकॉर्डर ऑन कर दिया। साथ ही एटीएम से पैसे निकालने का बहाना बनाकर टैक्सी सांताक्रूज पुलिस थाने की तरफ़ घुमा दी।

ड्राइवर रोहित ने पुलिस को दी जानकारी

रोहित ने सांताक्रूज थाने में जाकर पुलिस को बताया कि जिस सवारी को लेकर वो आया है वो फ़ोन पर कुछ संदिग्ध बातें कर रहा था। शक होने पर वो जाँच के लिए उसे थाने लाया है। रोहित बप्पादित्य सरकार को पहले से नहीं जानता था। जब उसने रोहित से पूछा कि वो उसे यहाँ क्यों लाया तो रोहित ने जवाब दिया कि “तुम हमारे देश को जला दोगे तो क्या हम चुपचाप देखते रहेंगे? तुम हमारे शहर में आकर उसे जलाने की बात करोगे तो हम ये कैसे बर्दाश्त कर लें?” इसके बाद मुंबई पुलिस ने वामपंथी बप्पादित्य को थाने में ले जाकर उससे पूछताछ की। उससे उसके आने के मक़सद और फ़ोन पर बातचीत के बारे में पूछा गया। हालाँकि बाद में उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। आम लोग रोहित के काम की तारीफ़ कर रहे हैं, लेकिन वामपंथ समर्थक मीडिया पिछले दो दिन से रोहित के ख़िलाफ़ झूठ फैलाने में जुटा है और उसकी सूझबूझ की तारीफ़ के बजाय उल्टा उसे ही खलनायक बनाने की कोशिश कर रहा है।

मुंबई में भी आंदोलन भड़काने की साज़िश

दरअसल गेट वे ऑफ इंडिया और आज़ाद मैदान के बाद मुंबई में भी दिल्ली की तर्ज़ पर आंदोलन शुरू करने की कोशिश लगातार चल रही है। दक्षिणी मुंबई के नागपाड़ा में कट्टरपंथी मुसलमानों का एक समूह धरने पर बैठने में सफल भी हुआ है। इस आंदोलन को भी शाहीन बाग़ की तरह बड़ा बनाने की कोशिश चल रही है। बप्पादित्य इसी सिलसिले में मुंबई आया हुआ था। पुलिस सूत्रों ने भी पुष्टि की है कि बप्पादित्य फ़ोन पर किसी से बोल रहा है कि “इस कंट्री में आग लगने वाली है”। रोहित ने इस बातचीत की रिकॉर्डिंग पुलिस को दी है। इसी के बाद रोहित को शक हो गया कि ये आदमी आतंकवादी हो सकता है और उसने टैक्सी पुलिस थाने की ओर घुमाने का फ़ैसला कर लिया। 35 साल के रोहित का कहना है कि “मैंने जो कुछ भी किया अच्छी नीयत से किया, लेकिन मीडिया ने पूरे मामले को घुमा दिया है। मेरे ख़िलाफ़ झूठी बातें फैलाई जा रही हैं।”

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

 Loading ...

Donate to Newsloose.com

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें

Popular This Week

Don`t copy text!