Loose Top

वो 5 मामले जिनमें सोनिया गांधी जा सकती हैं तिहाड़ जेल

फाइल तस्वीर

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पिछले दिनों दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद सीनियर नेता पी चिदंबरम से मिलने गई थीं। चिदंबरम यहां रिश्वतखोरी के केस में बंद हैं। सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर तरह-तरह की बातें हो रही हैं। कई लोग चुटकी ले रहे हैं कि शायद सोनिया गांधी देखने आई थीं कि वो जगह कैसी है जहां एक दिन उन्हें भी जाना है। कुछ लोग यह दावा भी कर रहे हैं कि सोनिया गांधी किसी ज्योतिषी की सलाह पर तिहाड़ गई थीं, क्योंकि उनके भाग्य में जेल जाने का योग लिखा हुआ है। ऐसा टोटका है कि अगर कोई एक बार अपनी मर्जी से जेल का पानी पी आए तो उसका जेल का योग कट जाता है। इन बातों की सच्चाई तो हमें नहीं पता लेकिन यह बात सही है कि सोनिया गांधी ऐसे कई आरोपों में घिरी हुई हैं, जिनमें उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। एक नजर सोनिया गांधी पर लगे 5 बड़े आरोपों पर जो कभी भी उनके लिए गले की हड्डी बन सकते हैं।

1. अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाला

यह वो सबसे बड़ा मामला है जिसमें कानून का शिकंजा सीधे सोनिया गांधी पर कस सकता है। फिलहाल वो इस केस की आरोपी तो नहीं हैं, लेकिन इसी मामले में वो कोर्ट में इटली में दोषी ठहराई जा चुकी हैं। हालांकि वहां पर ऊपरी अदालत ने उनको तकनीकी आधार पर राहत दे दी थी। उस केस में सोनिया का नाम सिग्नोरा गांधी के तौर पर दर्ज था। अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर बनाने वाली कंपनी फिनमेकेन्निका के दो बिचौलियों की डायरी में सोनिया समेत कांग्रेस के कई नेताओं के नाम पाए गए थे। उस केस में इटली की अदालतों में लंबी-चौड़ी कार्रवाई चली थी। इसी के बाद भारत में भी केस दर्ज करके जांच शुरू की गई। 36 अरब रुपये के इस सौदे में 12 हेलीकॉप्टर खरीदे जाने थे। लेकिन तब तक सौदे में दलाली का खुलासा हो गया और पूरी डील खटाई में पड़ गई। यह केस अभी अदालत में है और इस सौदे के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाया जा चुका है। सोनिया गांधी की घबराहट इसी बात से समझी जा सकती है कि बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल की वकालत कांग्रेस पार्टी का एक नेता कर रहा है। यह भी पढ़ें: इटली की कोर्ट में कसूरवार साबित हुईं सोनिया गांधी

2. नेशनल हेराल्ड घोटाला

ये वो घोटाला है जिसमें सोनिया, राहुल समेत कांग्रेस पार्टी के कई दिग्गज नेता नप सकते हैं। कांग्रेस पार्टी की कंपनी एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड तीन अख़बार चलाती थी– नेशनल हेराल्ड, नवजीवन और क़ौमी आवाज़। आजादी के बाद इस कंपनी को कांग्रेस की सरकारों ने देशभर में प्राइम लोकेशन पर महंगी जमीनें कौड़ियों के भाव दीं। एक अप्रैल 2008 को ये सारे अखबार बंद हो गए। मार्च 2011 में सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने यंग इंडिया लिमिटेड नाम से एक नई कंपनी खोली, जिसमें दोनों की 38-38 फ़ीसदी हिस्सेदारी थी। फिर कानूनी दांवपेंच के जरिए एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड कंपनी को यंग इंडिया लिमिटेड के हवाले कर दिया गया। इस तरह से अखबारों की जो जमीनें कांग्रेस पार्टी की संपत्ति थीं, वो सब सोनिया और राहुल गांधी की निजी संपत्ति बन गईं। अखबार बंद होने के पहले और बाद में भी इन प्रॉपर्टी से करोड़ों रुपये किराये के तौर पर कमाए जा रहे थे। अब ये सारा किराये का पैसा भी सोनिया और राहुल गांधी का हो गया। बीजेपी सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने इस मामले को केस में चुनौती दे रखी है। दिल्ली में हेराल्ड हाउस खाली कराए जाने का आदेश दिया जा चुका है। इस केस में भी सोनिया गांधी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। यह भी पढ़ें: कहानी मीरा कुमार के भाई और एक सेक्स स्कैंडल की

3. डीएलएफ जमीन घोटाला

2012 में सोनिया गांधी और उनके दामाद रॉबर्ट वाड्रा पर रियल एस्टेट कंपनी डीएलएफ़ से 65 करोड़ का ब्याजमुक्त लोन लेने का आरोप लगा। यह एक तरह की रिश्वत थी जो इस तरह से ली गई थी ताकि कोई भ्रष्टाचार का आरोप न लगा सके। यह मामला भी कोर्ट में विचाराधीन है। इसी केस में यह बात सामने आ चुकी है कि कांग्रेस सरकार के दौरान वाड्रा ने देश के कई इलाकों में बेहद कम दामों पर जमीनें खरीदीं और बाद में वहां पर किसी सरकारी प्रोजेक्ट का एलान हुआ और उसके बाद वाड्रा ने वो जमीनें ऊंची कीमतों पर बेच दीं। यह भी पढ़ें: जानिए क्यों चुनाव लड़ने से डरती हैं प्रियंका वाड्रा

4. प्राचीन मूर्तियों की चोरी

इस मामले में सोनिया गांधी पर सीधे तौर पर कोई आरोप नहीं है और न ही कोई मुकदमा ही चल रहा है। लेकिन सुब्रह्मण्यम स्वामी बार-बार यह आरोप लगाते रहे हैं कि सोनिया गांधी का हाथ देश की प्राचीन कलाकृतियों और मूर्तियों की चोरी में है। दरअसल सोनिया गांधी की बहन इटली में भारतीय प्राचीन कलाकृतियों की 2-2 दुकान चलाती है। स्वामी का सवाल है कि उसको सामान की सप्लाई कौन करता है? हाल ही में खबर आई थी कि मोदी सरकार इस पूरे मामले की जांच करवा सकती है। अगर ऐसा हुआ तो निश्चित रूप से सोनिया गांधी को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। यह भी पढ़ें: खोला जा सकता है प्राचीन मूर्तियों की चोरी का केस

5. स्विस बैंकों में ब्लैकमनी

कुछ साल पहले स्विट्जरलैंड की एक पत्रिका ने छापा था कि वहां के बैंकों में राजीव गांधी का अकाउंट है। माना जाता है कि मामला खुलने के बाद गांधी परिवार ने उस अकाउंट को बंद कर दिया होगा। लेकिन अब केंद्र सरकार ने स्विस सरकार के साथ एक समझौता किया है जिसमें वहां पैसा जमा करने वाले भारतीयों की पूरी जानकारी भारत को मिलती है। इस मामले को लेकर चल रही जांच में अगर सोनिया के खिलाफ कोई सबूत मिल जाते हैं तो उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। यह भी पढ़ें: मोदी की चाणक्य नीति जानना आपके लिए है जरूरी

इन पांच के अलावा भी सोनिया गांधी पर कई तरह के गंभीर आरोप लग चुके हैं। इनमें सबसे बड़ा है बोफोर्स घोटाला। माना जाता है कि इस मामले में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाले क्वात्रोकी के पीछे सोनिया गांधी का ही हाथ था। यह बात किसी से छिपी नहीं है कि क्वात्रोकी के सोनिया गांधी के बेहद करीबी रिश्ते थे। सोनिया के खिलाफ एक और चर्चित आरोप 1973 में हुए मारुति घोटाले का है। सबसे पहले इंदिरा गांधी का नाम मारुति घोटाले में आया था, जब उनके बेटे संजय गांधी को कारें बनाने का लाइसेंस मिला था। 1973 में सोनिया गांधी को मारुति टेक्निकल सर्विसेज़ प्राइवेट लि. का एमडी बनाया गया। जबकि सोनिया के पास इसके लिए ज़रूरी तकनीकी योग्यता नहीं थी। कंपनी को इंदिरा सरकार की ओर से टैक्स, सरकारी फंड और ज़मीन को लेकर कई छूटें मिलीं। मगर कंपनी चलने लायक एक भी कार नहीं बना सकी और 1977 में इसे बंद कर दिया गया।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Popular This Week

Don`t copy text!