Loose Top

राहुल गांधी जी, वायुसेना के हमले में ‘आपका कौन’ शहीद हुआ?

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना के ऑपरेशन बालाकोट को लेकर राहुल गांधी ने एक ऐसा बयान दिया है जो पाकिस्तान के बहुत काम आएगा। विपक्ष के नेता के तौर पर राहुल गांधी ने जो कुछ कहा है वो भारत और भारतीय सेना के खिलाफ इस्तेमाल किया जा सकता है। ओडिशा के कोरापुट में एक रैली में राहुल गांधी ने कहा है कि “कुछ दिन पहले भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान पर आक्रमण किया। बम गिराए। हमारे लोग भी शहीद हुए।” राहुल गांधी ने ये बयान तब दिया है जब वायुसेना साफ कर चुका है कि भारत का एक भी जवान इस ऑपरेशन में शहीद नहीं हुआ। सिर्फ विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तान के कब्जे में फंसे थे, उन्हें भी 24 घंटे के अंदर पाकिस्तान के चंगुल से छुड़ा लिया गया। इस बात के सबूत भी आ चुके हैं कि पाकिस्तान के अंदर बालाकोट के जैश ए मोहम्मद के ठिकाने पर हुए हमले में करीब 300 आतंकी मारे गए हैं। सवाल यह उठ रहा है कि राहुल गांधी के वो “हमारे लोग” कौन हैं, जो इस हमले में मारे गए? उनका मतलब जैश के आतंकवादियों से है या भारत के जवानों से? यह भी पढ़ें: टॉप-5 भारतीय नेता जो पाकिस्तान में ज्यादा लोकप्रिय हैं

बहकी-बहकी बातें करते रहे राहुल

ओडिशा की इस रैली में कांग्रेस अध्यक्ष कुछ खोए-खोए से लग रहे थे। ऐसा लग रहा था मानो उनका शरीर रैली में है लेकिन दिमाग कहीं और ही है। मंच से अपने भाषण में उन्होंने कहा कि “भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान पर आक्रमण किया।” जबकि वायुसेना कह चुकी है कि ये हमला पाकिस्तान पर नहीं, बल्कि आतंकी संगठन के ठिकाने पर था। ये बात करते-करते राहुल गांधी न जाने कैसे मिग विमान पर पहुंच गए। उन्होंने कहा कि “70 साल से हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड यानी HAL हवाई जहाज बना रहा है। पीएम देशभक्ति की बात करते हैं लेकिन वायुसेना का पैसा लेकर अपने मित्र अनिल अंबानी को देते हैं।” देखा जाए तो इन सारी बातों का कोई ओर-छोर नहीं है। कोर्ट में यह साबित हो चुका है कि राफेल सौदे में जिन ऑफसेट कंपनियों को ठेका दिया गया है उसमें कोई गड़बड़ी नहीं है। हालांकि कांग्रेस पार्टी अब भी इस मामले से चिपके हुए है क्योंकि उन पर चीन का दबाव है कि किसी भी तरीके से राफेल डील को विवादों में डालकर रद्द करवाया जाए। यह भी पढ़ें: जानिए सरकार से सबूत मांगने के पीछे क्या है कांग्रेस की चाल

क्या बोल रहे हैं खुद नहीं जानते

राहुल गांधी ने भाषण में हमेशा की तरह HAL की तारीफें शुरू कर दीं। ये काम वो उस दिन कर रहे थे, जब कुछ मिनट पहले ही राजस्थान में एक मिग 21 विमान हादसे का शिकार हो गया। ये विमान भी HAL का ही बनाया हुआ था। HAL के काम करने का तरीका काफी समय से आलोचनाओं में रहा है। मोदी सरकार उठे ठीक करने की कोशिश कर रही है, लेकिन इसका मतलब यह भी नहीं कि वो रातों-रात राफेल जैसा लड़ाकू विमान बनाने लग जाएंगे। एक और बात यह कि राहुल गांधी अपने पूरे भाषण में लड़ाकू विमान के लिए ‘हवाई जहाज’ शब्द का इस्तेमाल करते रहे। ऐसे में लोगों के दिमाग में यह बात आती है कि राहुल गांधी कहीं किसी नशीली सामग्री का इस्तेमाल तो नहीं करते? क्या वो राजनीति को लेकर पूरी तरह गंभीर हैं या फिर अपना और देश का टाइमपास कर रहे हैं। यह सोचने वाली बात है कि ऐसा शख्स अगर गलती से भी देश का प्रधानमंत्री बन गया तो क्या होगा। नीचे आप राहुल गांधी के भाषण का वो हिस्सा सुन सकते हैं। ये वीडियो न्यूज एजेंसी ANI ने ट्वीट किया है।

यह भी पढ़ें: क्या अमेठी में राहुल गांधी को हरा पाएंगी स्मृति ईरानी

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या कांग्रेस का घोषणापत्र देश विरोधी है?

View Results

Loading ... Loading ...