जेल में बंद इंद्राणी मुखर्जी को किसने दिलाया ज़हर?

शीना वोहरा हत्याकांड की आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को क्या ज़हर देकर मारने की कोशिश की गई है? इंद्राणी को शुक्रवार रात तबीयत बिगड़ने के बाद मुंबई के जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहां पर उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। आईएनएक्स मीडिया घोटाले में पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम के खिलाफ गवाही देने के बाद से वो चर्चाओं में थीं। उनकी गवाही के आधार पर ही पिछले दिनों चिदंबरम का बेटा कार्ति चिदंबरम गिरफ्तार किया गया था। ये घटना ठीक उसी दिन हुई है, जब चिदंबरम को पूछताछ के लिए सीबीआई ने समन भेजा है। इंद्राणी मुखर्जी मुंबई के भायखला जेल में करीब तीन साल से बंद हैं। ये दूसरी बार है जब उनको कथित तौर पर ड्रग ओवरडोज के बाद अस्पताल ले जाना पड़ा है। बीजेपी सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने फरवरी में ही ट्वीट करके कहा था कि जेल में इंद्राणी को ज़हर देकर मारने की कोशिश हो सकती है।

चिदंबरम की मुसीबत का कारण!

आईएनएक्स मीडिया घोटाले में इंद्राणी मुखर्जी मुख्य गवाह हैं और उनके बयान के बाद ही पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम की गिरफ्तारी हुई थी। अपने बयान में इंद्राणी ने कोर्ट को बताया था कि उनकी कंपनी को फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रोमोशन बोर्ड (FIPB) से इजाज़त दिलाने के लिए वो दिल्ली के साउथ ब्लॉक में वित्त मंत्रालय के दफ्तर में तब के वित्त मंत्री पी चिदंबरम से मिली थीं। इसके बाद उन्होंने चिदंबरम के बेटे कार्ति को रिश्वत के तौर पर 5 करोड़ रुपये दिए। इंद्राणी ने जो बयान दिया है उसके पूरे सबूत भी मौजूद हैं, लिहाजा ये चिदंबरम के लिए गले की हड्डी बन गया है। इस केस में कार्ति चिदंबरम को हाल ही में मुश्किल से जमानत मिली है। पहली नजर में देखें तो इंद्राणी के जीते रहने से दो लोगों को ही खतरा है और वो हैं चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति।

डॉक्टरों को ज़हर दिए जाने का शक

जेजे अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा है कि इस बात की संभावना है कि इंद्राणी मुखर्जी को ज़हर दिया गया है या उन पर किसी दवा के ओवरडोज का असर हुआ हो। अस्पताल के डीन एसडी ननंदकर ने कहा है कि इंद्राणी को लगभग बदहवासी की हालत में लाया गया था। उनके सभी जरूरी टेस्ट किए जा रहे हैं। शुरुआती तौर पर ये ज़हर देने या डोज से ज्यादा दवा खाने का मामला लग रहा है। डॉक्टर अभी रिपोर्ट्स का इंतजार कर रहे हैं। ताजा जानकारी के मुताबिक उनकी हालत स्थिर है। इसी साल 21 फरवरी को ट्वीट करके सुब्रह्मण्यम स्वामी ने आरोप लगाया था कि जेल में इंद्राणी की हत्या हो सकती है। इसलिए उन्हें कड़ी सुरक्षा दी जाए।

क्या है आईएनएक्स मीडिया मामला?

चिदंबरम के बेटे कार्ति के घर पर प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने 2015 में छापे मारे थे। वहां पर उन्हें इंद्राणी और उनके पति पीटर से लेनदेन के सुराग मिले। इसके बाद जांच शुरू हुई तो रिश्वतखोरी का पता चला। सीबीआई और ईडी की पूछताछ में इंद्राणी ने 5 करोड़ की रिश्वत की बात कबूली है। मजिस्ट्रेट के आगे अपने बयान में इंद्राणी ने यह भी बताया कि चिदंबरम ने उनसे कहा था कि वो उनके बेटे कार्ति के कारोबार में मदद करें। इंद्राणी के पास उसकी ‘मदद’ करने के सिवा कोई दूसरा रास्ता भी नहीं था क्योंकि 300 करोड़ रुपये के हवाला के मामले में वो पहले से ही इनकम टैक्स की जांच के दायरे में थी।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , ,