बशीरहाट हिंसा का वो वीडियो जो मीडिया ने दबा दिया!

बंगाल के बशीरहाट में पिछले दिनों हुए हिंदू विरोधी दंगों की नई-नई तस्वीरें सामने आ रही हैं। ताजा वीडियो बशीरहाट के आमतला इलाके में हुई हिंसा का है (नीचे देखें)। ये वीडियो पिछले कुछ समय से व्हाट्सअप पर खूब शेयर किया जा रहा है। हमें मिली जानकारी के मुताबिक ये वीडियो यहां दंडीरहाट इलाके में बने काली मंदिर का है। जिस पर 3 जुलाई को मुसलमानों की भीड़ ने हमला बोला था। जिहादी भीड़ ने मंदिर में घुसकर न सिर्फ वहां का सारा सामान बाहर फेंक दिया, बल्कि मंदिर में लगी भगवान की प्रतिमाओं को भी बाहर फेंक दिया। इस पूरे वाकये के दौरान उन्हें कोई रोकने वाला नहीं था। न्यूज़लूज़ पर हमने आपको बताया था कि किस तरह ममता बनर्जी सरकार ने मुसलमानों को 24 घंटे की खुली छूट दी थी, ताकि वो इस्लाम के खिलाफ एक कथित पोस्ट पर हिंदुओं से बदला ले सकें।

ममता और मीडिया की साठगांठ

न्यूज़लूज़ को बशीरहाट और आसपास के इलाकों में इस महीने की शुरुआत में हुए दंगों से जुड़े कई अहम तथ्य हाथ लगे हैं। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इन दंगों के बाद ममता बनर्जी सरकार ने बाकायदा मीडिया का मुंह धमकाकर बंद करवा दिया। कुछ गिने-चुने चैनलों को छोड़ दें तो किसी ने भी बशीरहाट की घटनाओं की रिपोर्टिंग के बाद वहां हुई कार्रवाई का फॉलोअप नहीं किया। दोषियों पर कार्रवाई को लेकर भी मीडिया की तरफ से कोई सवाल नहीं पूछे गए। एक बड़े अधिकारी ने नाम न उजागर करने की शर्त पर बताया कि “सारी मीडिया फिक्स है और इसके बदले में बंगाल सरकार उन्हें कुछ इनाम भी देगी।” आम तौर पर सरकारी विज्ञापनों के रूप में ये इनाम दिए जाते हैं।

यह भी पढ़ें: ममता ने दंगाइयों को दी थी 24 घंटे की छूट

ममता के इशारे पर नाची मीडिया

बशीरहाट दंगों के बाद मममता सरकार का सारा फोकस फेसबुक पोस्ट लिखने वाले नाबालिग छात्र और कुछ कथित फोटोशॉप तस्वीरें पोस्ट करने वालों पर कार्रवाई पर है। अब तक किसी भी दंगाई पर कार्रवाई नहीं की गई है। न ही दंगे के पीछे दोषियों को लेकर कोई सवाल पूछे जा रहे हैं। ममता बनर्जी ने ये कहकर बशीरहाट के कट्टरपंथी मुसलमानों को क्लीनचिट दे दी कि दंगाई बांग्लादेश से आए थे। इसके बाद मीडिया ने भी चुप्पी साध ली। अब बशीरहाट के दंगाइयों के बजाय वहां के नाम पर भोजपुरी फिल्म की तस्वीर पोस्ट करने वाले और बीजेपी नेता नूपुर शर्मा के ट्वीट की चर्चा हो रही है। जबकि इस दौरान बशीरहाट में हुई हिंसा के कई वीडियो सामने आए हैं और मीडिया उन्हें जानबूझकर अनदेखा कर रही है। ऐसा ही एक वीडियो ये है जो सोशल मीडिया पर खूब शेयर हो रहा है:

न्यूज़लूज़ को मिली जानकारी के मुताबिक ये वीडियो सभी न्यूज चैनलों के पास है, लेकिन वो इसे दिखाने को राजी नहीं हैं। क्योंकि इसे दिखाने पर बंगाल की ममता सरकार नाराज हो जाएगी। हमने इस वीडियो को इसलिए पोस्ट किया है, ताकि बंगाल सरकार पर दबाव बने और वो वीडियो में दिख रहे दंगाइयों की पहचान कर उन्हें जेल पहुंचाए।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , , ,