Loose Top

केजरीवाल के मसाज पर जनता के 33 लाख स्वाहा

पंजाब चुनाव की थकान मिटाकर अरविंद केजरीवाल दिल्ली लौट आए हैं। वो बैंगलोर के एक फाइवस्टार स्पा में मसाज कराने के लिए गए थे। जिंदल नेचरकेयर इंस्टीट्यूट वैसे तो नेचुरोपैथी से इलाज का दावा करता है, लेकिन कम जानते हैं कि ये एक तरह का हाईप्रोफाइल स्पा है। जहां बड़े लोग जाकर मसाज और दूसरे ऐशो-आराम का मजा लेते हैं। खबर है कि अरविंद केजरीवाल ने यहां 15 दिन ठहरने के बदले 33 लाख रुपये का बिल चुकाया है। बीजेपी का आरोप है कि ये सारे पैसे दिल्ली सरकार की तरफ से दिए गए। इससे पहले भी केजरीवाल ने यहां ठहरने का सारा खर्चा दिल्ली सरकार से भरवाया था।

इलाज के नाम पर मसाज

जिंदल केयर इंस्टीट्यूट में इलाज के नाम पर कई तरह के मसाज का इंतजाम है। कहते हैं कि देश के सबसे बड़े धन्नासेठ, भ्रष्ट सरकारी अफसर और नेता यहां पर आकर साल में कम से कम एक बार आकर ऐश करते हैं। सीएम केजरीवाल भी बीते कुछ साल से यहां की सेवाएं ले रहे हैं। इस फाइवस्टार स्पा की फीस इतनी ज्यादा है कि कोई आम आदमी यहां आने की सोच भी नहीं सकता। जिंदल नेचरकेयर सेंटर में ठहरने के लिए रूम का किराया ही 12 हजार रुपये प्रतिदिन तक बैठता है। केजरीवाल ने इस बार वहां पर अपनी यात्रा टॉप सीक्रेट रखी। इससे पहले जब वो परिवार को लेकर गए थे तो उनकी कई तस्वीरें सामने आई थीं। जबकि इस बार सिर्फ एक तस्वीर सामने आई है, जिसमें केजरीवाल संजय सिंह, भगवंत मान और एक अन्य नेता के साथ कुर्सी पर बैठे नजर आ रहे हैं। इस तस्वीर से यही लग रहा है कि केजरीवाल इन नेताओं के साथ वहां गए थे।

शुगर के इलाज का बहाना

आम आदमी पार्टी का कहना है कि केजरीवाल हाई ब्लड शुगर लेवल का इलाज कराने जिंदल इंस्टीट्यूट में गए थे। पिछली बार 2015 में वो खांसी का इलाज कराने के नाम पर यहीं पर गए थे। केजरीवाल अब तक तीन बार वहां पर जा चुके हैं पहली बार वो 2015 में चुनाव के फौरन बाद गए थे। इसके बाद जनवरी 2016 में भी वो बीमारी के नाम पर 10 दिन तक जिंदल नेचरकेयर सेंटर में रहे थे। केजरीवाल जिन बीमारियों का इलाज कराने जनता के पैसे पर बैंगलोर जाते हैं, दरअसल उनका दिल्ली में बैंगलोर से अच्छा इलाज उपलब्ध है। दिल्ली के मयूर विहार फेज-1 में बापू नेचरकेयर हॉस्पिटल में दुनिया भर से लोग इलाज के लिए आते हैं। यहां ठहरने का भी बेहतरीन इंतजाम है। इसके अलावा कड़कड़डूमा इलाके में केरल का मशहूर कोट्टकल आयुर्वेद शाला है। बड़े इलाके में फैले इस अस्पताल में भरपूर हरियाली और खुला वातावरण है। इन दोनों ही अस्पतालों में बहुत सस्ते में इलाज होता है। यह रहस्य है कि दिल्ली में उपलब्ध अच्छे इलाज को छोड़कर सीएम केजरीवाल हर बार बैंगलोर ही क्यों जाते हैं। हालांकि सूत्रों के मुताबिक केजरीवाल एक्ज़ोटिक मसाज के शौकीन हैं, इसलिए वो समय-समय पर वहां जाकर मालिश करवाते हैं। दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष रहे सतीश उपाध्याय ने भी ट्वीट करके बताया है कि केजरीवाल के इलाज में टैक्स पेयर्स के 33 लाख रुपये खर्च कर दिए गए। बीजेपी के इस आरोप पर आम आदमी पार्टी की तरफ से कोई खंडन या सफाई भी नहीं आई।

यहां हम आपको बता दें कि जिंदल नेचर केयर इंस्टीट्यूट कांग्रेस के नेता और उद्योगपति नवीन जिंदल का है। नवीन जिंदल कोयला घोटाले के आरोपी भी है। भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन के दिनों में केजरीवाल सभी नेताओं का नाम लिया करते थे, लेकिन उन्होंने कभी भी नवीन जिंदल के खिलाफ एक शब्द नहीं बोला। ऐसा बताते हैं कि नवीन जिंदल आम आदमी पार्टी को बड़े पैमाने पर फंड कर रहे हैं।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या कांग्रेस का घोषणापत्र देश विरोधी है?

View Results

Loading ... Loading ...