सीएम केजरीवाल ने पत्रकार को गुंडे भेजकर पिटवाया!

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का नाम एक पत्रकार पर हुए जानलेवा हमले के मामले में सामने आ रहा है। विप्लव अवस्थी नाम के इस टीवी पत्रकार ने दिल्ली सरकार के कई घोटालों का पर्दाफाश किया है। जिसके बाद से उन्हें लगातार जान से मारने की धमकियां मिल रही थीं। बुधवार शाम नोएडा सेक्टर 71 के पास कुछ गुंडों ने उनकी कार को घेर लिया। हमलावरों ने लोहे की रॉड से मारकर कार के शीशे वगैरह तोड़ डाले और विप्लव अवस्थी को भी बुरी तरह मारा पीटा। हमलावर ने चेतावनी दी है कि वो केजरीवाल के खिलाफ खबरें न करें।

क्या है पूरा वाकया?

विप्लव अवस्थी ने बताया है कि वो बुधवार शाम को दफ्तर से अपने घर की तरफ जा रहे थे। तभी एक कार ने उन्हें ओवरटेक किया। कार से 30-32 साल का एक आदमी उतरा। उसने कार के शीशे तोड़ना शुरू कर दिया। उसके साथ मौजूद दूसरे आदमी ने विप्लव को पकड़कर उन्हें मारा पीटा और कमीज फाड़ दी। उनका कहना है कि इस बदमाश ने बोला कि “बहुत पत्रकार बनता है। मुकदमे करता है। 25 फरवरी को अगर कोर्ट गये तो हत्या कर देंगे तुम्हारी।” इसके बाद दोनों हमलावर मौके से भाग निकले।

क्या है पूरा मामला?

विप्लव अवस्थी ने दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साढू सुरेंद्र कुमार बंसल और अन्य लोगों के खिलाफ 2014 से 2016 के बीच कई निर्माण कार्यों व सरकारी ठेको में भ्रष्टाचार का केस दाखिल कर रखा है। मामला खुलने के बाद उन पर पिछले कई दिन से ये दबाव पड़ रहा है कि वो केस वापस ले लें। आरोप है कि केजरीवाल सरकार ने अपने रिश्तेदारों के जरिए करोड़ों रुपये का गबन किया है। इस बारे में कई आरटीआई दी जा चुकी हैं, लेकिन केजरीवाल सरकार इनके जवाब तक नहीं देती।

केजरीवाल परिवार की लूट

दरअसल दिल्ली में इन दिनों अरविंद केजरीवाल और उनके विधायक जमकर पैसे बनाने में लगे हैं। इसी के तहत केजरीवाल के सगे साढ़ू ने रेणु कंस्ट्रक्शन नाम की कंपनी बनाई और फिर महादेव इंपैक्स नाम की एक दूसरी फर्जी कंपनी से सामान खरीदारी दिखाया। जबकि महादेव इंपैक्स ने खुद अपने टैक्स रिटर्न में माना है कि उसने एक भी पैसे का कारोबार नहीं किया है। मतलब ये कि दिल्ली में नाले बनाने से लेकर सड़कों तक का काम सिर्फ सरकारी फाइलों में हो गया और इसके लिए सरकार के फंड से पूरी पेमेंट भी कर दी गई।

पत्रकार विप्लव अवस्थी ने खुद पर हुए हमले की जानकारी फेसबुक के जरिए दी है।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , ,