Loose Top

एक अफवाह पर दंगा फैलाने आ गए सैकड़ों शांतिदूत!

मुंबई के गोवंडी इलाके में मंगलवार शाम बड़ा दंगा होते-होते बचा। यहां बाइक से गिरकर एक साल की बच्ची की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक एजाज शेख नाम का एक शख्स अपनी पत्नी रिजवाना के साथ बाइक पर जा रहा था। रिजवाना की गोद में उसके भाई की एक साल की बच्ची थी। घाटकोपर-मानखुर्द रोड से गुजरते वक्त अचानक रिजवाना के हाथ से फिसलकर बच्ची नीचे जा गिरी। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आसपास के इलाके में शांतिप्रिय समुदाय के लोग रहते हैं और किसी ने अफवाह फैला दी कि एक ट्रक के धक्के से हादसा हुआ है।

500 से ज्यादा दंगाई पहुंच गए

देखते ही देखने सैकड़ों लोग लाठी-डंडे और तलवारें लेकर पहुंच गए। इन लोगों ने वहां से गुजर रहे एक डंपर पर पथराव शुरू कर दिया। शांतिदूत दंगाइयों ने डंपर के ड्राइवर को बाहर खींचकर उसे बुरी तरह लहूलुहान कर डाला। हालात बेकाबू होते देख पुलिस की और टीमें मौके पर बुलाई गईं। कई पुलिसवालों के साथ भी शांतिदूतों ने मारपीट की। भारी पुलिसबल के पहुंचने के बाद हालात काबू में आ सका। बुरी तरह घायल ड्राइवर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां वो जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है।

इतनी तेज़ी से कैसे फैली अफवाह

उधर पुलिस इस बात पर हैरान है कि ये अफवाह किसने फैलाई कि हादसा किसी डंपर के कारण हुआ है और कैसे इतनी जल्दी सैकड़ों हथियारबंद लोग पहुंच भी गए। हादसे के शिकार पति-पत्नी ही नहीं, आसपास के चश्मदीद भी मान रहे हैं कि ये महज एक हादसा था और इसका किसी डंपर से कोई लेना-देना नहीं था। फिलहाल पुलिस इस मामले में कुछ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की तैयारी कर रही है। साथ ही यह पता लगाया जा रहा है कि क्या किसी ने व्हाट्सएप वगैरह की मदद से अफवाह फैलाई थी।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या कांग्रेस का घोषणापत्र देश विरोधी है?

View Results

Loading ... Loading ...