क्या ट्विटर पर खुद राहुल गांधी ने लिखीं गालियां?

क्या राहुल गांधी का ट्विटर एकाउंट वाकई हैक हुआ या इसके पीछे कुछ और ही कहानी है? सोशल मीडिया पर यह सवाल छाया हुआ है। क्योंकि राहुल गांधी जैसे बड़े नेता का वैरीफाइड ट्विटर एकाउंट @OfficeOfRG हैक होने की बात गले नहीं उतरती। टिक मार्क वाला कोई भी वैरीफाइड एकाउंट हैक करना आसान नहीं होता। ऐसे में कई तरह की कॉन्स्पिरेसी थ्योरी जन्म ले चुकी हैं। कहा जा रहा है कि या तो पासवर्ड जानने वाले किसी अंदरूनी आदमी ने ही ये ट्वीट किए, या फिर खुद राहुल गांधी ने। सच्चाई क्या है ये ट्विटर आसानी से पता कर सकता है, लेकिन आम तौर पर ट्विटर ऐसे मामलों में ज्यादा जानकारी शेयर नहीं करता। फिलहाल कांग्रेस ने इसकी शिकायत पुलिस में करने की बात कही है।

राहुल के ट्विटर एकाउंट पर गालियां

बुधवार शाम के वक्त अचानक राहुल गांधी के आधिकारिक ट्विटर एकाउंट से कुछ ऐसे ट्वीट्स किए गए, जो गांधी परिवार के लिए अपमानजनक और गालियों से भरे हुए थे। आम तौर पर ऐसा होने पर फौरन मान लिया जाता है कि एकाउंट हैक किया गया है। करीब आधे घंटे के अंदर ये सारे ट्वीट्स डिलीट कर दिए गए। इसके थोड़ी ही देर के अंदर राहुल के एकाउंट में उनके बायो (परिचय) में फेरबदल कर दिया गया। जानकारों के मुताबिक जिस तरह से यह सब हुआ वो एकाउंट हैक होने का मामला नहीं लग रहा है। ज्यादा संभावना इस बात की है कि राहुल का पासवर्ड किसी गलत व्यक्ति के हाथ लग गया हो और उसने ही यह सब लिखा हो।

15192759_10153882856386230_6025360624253328485_n

‘पहली नज़र में हैकिंग के लक्षण नहीं’

एक एथिकल हैकर ने लिखा है कि आम तौर पर हैक किए गए एकाउंट को वापस पाने में ज्यादा वक्त लगता है। लेकिन राहुल गांधी के एकाउंट से आधे घंटे के अंदर ट्वीट्स डिलीट भी हो गए। इसके अलावा देखा जाता है कि हैकर किसी एकाउंट पर कब्जा करने के बाद सबसे पहले उसकी तस्वीर बदल देते हैं। लेकिन राहुल गांधी के ट्विटर एकाउंट के साथ ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। हैकिंग के बाद राहुल गांधी के ऑफिस की तरफ से कोई औपचारिक सफाई या सूचना तक नहीं दी गई। ऐसा लग रहा था मानो कुछ छिपाने की कोशिश हो रही है।

कांग्रेस नेताओं ने हैकिंग पर राजनीति की!

सोशल मीडिया एकाउंट हैक होना बड़ी घटना है, लेकिन ऐसा अक्सर होता रहता है। इसके बावजूद कांग्रेस के तमाम बड़े नेताओं ने इस पर राजनीति शुरू कर दी। इस होड़ में कांग्रेस के दलाल माने जाने वाले कई पत्रकार भी शामिल थे। इस बात से भी शक होता है कि जिसे ट्विटर हैकिंग बताया जा रहा है उसके पीछे दरअसल कुछ और ही है। इन नेताओं और पत्रकारों ने ट्विटर पर यह लिखना शुरू कर दिया कि जब जिस तरह से राहुल गांधी का एकाउंट हैक हुआ है, उससे डिजिटल इंडिया पर सवाल खड़े हो गए हैं। जबकि सच्चाई यह है कि ट्विटर की सिक्योरिटी के लिए भारत सरकार नहीं, बल्कि उसे चलाने वाली अमेरिकी कंपनी जिम्मेदार है।

नीचे आप उदाहरण के तौर पर कुछ ट्वीट्स देख सकते हैं:

हालांकि लोगों को कांग्रेस की नीयत समझते देर नहीं लगी। कई लोगों ने राहुल गांधी का ट्विटर एकाउंट हैक होने की थ्योरी पर सवाल खड़े किए हैं।

(इस रिपोर्ट में लिखी गई बातें सोशल मीडिया पर लगाई जा रही कयासों और जानकारों की राय के आधार पर हैं। न्यूज़लूज़ इन दावों की पुष्टि नहीं करता है)

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , ,