विदेशों में बसे भारतीय ऐसे बदल सकते हैं अपने नोट!

देश ही नहीं, विदेशों में बसे भारतीयों को भी अपने पास पड़े 500 और 1000 के नोट की चिंता सता रही है। अब सरकार ने इन लोगों की मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं। इसके तहत विदेशों में बसे भारतीय वहां पर अपने करीबी भारतीय बैंक में जाकर पुराने नोट जमा करा सकते हैं। ब्रिटेन में भारत के डिप्टी हाई कमिश्नर दिनेश पटनायक ने इस फैसले की जानकारी दी है। तय सीमा के अंदर नोट जमा कराने वालों से कोई सवाल-जवाब नहीं होंगे। लेकिन इसके बाद के लिए कुछ जानकारियां देनी पड़ेंगी।

विदेशों में भारतीय बैंक बदलेंगे नोट

भारत की तरह विदेशों में भी करंसी बदलने या जमा करने की आखिरी तारीख 30 दिसंबर ही है। नियमों के मुताबिक विदेश में कोई भारतीय अपने पास 25 हजार रुपये से कम रख सकता है। इसलिए एक व्यक्ति के पास 25 हजार रुपये तक के ही नोट की बदली होगी। जिन लोगों के भारतीय बैंक में एकाउंट नहीं हैं, उन्हें या तो खाता खोलना होगा या कोई दूसरा तरीका अपनाना होगा। इस तरीके के बारे में जल्द ही फैसला कर लिया जाएगा। यूरोप और अमेरिका के कई शहरों में भारतीय बैंकों की ब्रांच हैं। हालांकि कुछ देशों में एक भी ब्रांच नहीं है। कनाडा जैसे देशों में ज्यादा दिक्कत हो सकती है, क्योंकि वहां पर बसे भारतीयों की संख्या काफी ज्यादा है, लेकिन भारतीय बैंक के ब्रांच काफी कम हैं। भारत से बाहर करंसी चेंज कराने के लिए भी आपको अपना आई-कार्ड जैसे कि पैन कार्ड, आधार कार्ड या पासपोर्ट लेकर जाना होगा। छोटी रकम पर तो वैसे कोई दिक्कत होने की उम्मीद नहीं, लेकिन अगर रकम 25 हजार से ज्यादा हुई तो कुछ औपचारिकताएं पूरी करनी होंगी।

पुराने नोट भारत भी भेज सकते हैं

30 दिसंबर से पहले जिन लोगों का भारत जाने का प्रोग्राम बन रहा है, वो लोग अपने नोट लाकर भारत में बदल सकते हैं। इसके अलावा कुछ लोगों ने अपने नोट जान-पहचान वालों को देकर भारत भिजवाए हैं। कुछ कंपनियां अपने कर्मचारियों की इस काम में मदद भी कर रही हैं। वैसे इस बारे में ज्यादा जानकारी के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की वेबसाइट देखी जा सकती है।

एक अपील: देश और हिंदुओं के खिलाफ पत्रकारिता के इस दौर में न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , ,