एक मुस्लिम लड़की जो इस्लाम छोड़कर इंसान बन गई

मुस्लिम लड़की सेरेना इस्लाम

सोशल मीडिया पर दुनिया भर में इन दिनों सेरेना नाम की एक पाकिस्तानी लड़की की बहुत चर्चा हो रही है। पाकिस्तानी मूल की इस लड़की ने अपने ब्लॉग पर एक दिन ऐलान कर दिया कि वो इस्लाम छोड़ रही है और इसके साथ ही उसने बिना नकाब के अपनी पहली सेल्फी सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी। इतना ही नहीं, इस लड़की ने इस्लाम छोड़ने की पूरी वजह अपने ब्लॉग पर बताई है। अपने साथ और दूसरी मुस्लिम महिलाओं के साथ बर्ताव की जो बातें इस लड़की ने बताई हैं वो वाकई डराने वाली हैं। इसके बाद से इस लड़की को दुनिया भर से इस्लामी कट्टरपंथियों की धमकियां और गालियां मिल रही हैं।

सेरेना ने क्यों छोड़ा इस्लाम?

इस्लाम छोड़ने के पीछे 24 साल की सेरेना ने जो कहानी बताई है वो बेहद दर्दनाक है। ब्लॉग में एक जगह सेरेना ने लिखा है कि शरिया कानून ने मुस्लिम औरतों को गुलाम बनाकर रखा हुआ है। उन्हें जानवरों से भी गई-गुजरी हैसियत दी गई है और यह सब मज़हब के नाम पर हो रहा है। सेरेना ने बताया है कि उसकी मां को उसके पिता बुरी तरह मारा-पीटा करते थे, बड़े होने पर जब उसने पिता को रोकने की कोशिश की तो उन्होंने बताया कि इस्लाम में बीवी को पीटने की छूट है। सेरेना ने लिखा है कि जब मैंने खुद पढ़ा कि “वाकई मेरे पिता सही कह रहे हैं तो मेरा भरोसा इस्लाम से उठ गया। बचपन में जब मेरा खतना हुआ था तो उस दर्द को भी मैं आज तक भूल नहीं सकी।” सेरेना पढ़ाई के सिलसिले में लंदन आई थी और उसने महसूस किया कि इस्लाम के बाहर की दुनिया कितनी खुशनुमा है। इसके बाद उसने खुलकर इस्लाम और शरिया के खिलाफ लिखना शुरू कर दिया। इसी महीने की 19 तारीख को उसने पूरी तरह से इस्लाम का त्याग कर देने का फैसला लिया। इसकी शुरुआत उसने ट्विटर पर अपनी एक तस्वीर पोस्ट करते हुए की। इस पोस्ट में सेरेना ने लिखा है:

“मैं आजाद हूं। अब और छिपने की जरूरत नहीं। अब नकाब में चेहरा छिपाने की भी जरूरत नहीं। कभी भी नहीं।”

दुनिया भर से मिलीं धमकियां

इस्लाम छोड़ने के बाद से सेरेना को जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं। एक ट्वीट में तो एक शख्स ने लिखा कि “मैं तुम्हें पहचान चुका हूं कि तुम कहां रहती हो। बहुत जल्द तुम्हारा सिर धड़ से अलग कर दिया जाएगा।” ऐसे ट्वीट्स पूरी दुनिया से आ रहे हैं और इन्हें लिखने वाले ज्यादातर मुस्लिम पुरुष हैं। कई लोगों ने सेरेना को धमकी दी है कि “इस्लाम छोड़ने के बाद अब अल्लाह तुम्हें माफ नहीं करेगा और तुम जहन्नम की आग में जलोगी”। इस पर इस लड़की ने जवाब लिखा है कि “जो जिंदगी मैं जी रही थी वो जहन्नुम की आग में जलने से भी ज्यादा खौफनाक थी। जो अल्लाह इंसानों को आग में जलाने की धमकी देता हो, ऐसे अल्लाह को मानने से मैं इनकार करती हूं।” सेरेना ने बार-बार यह लिखा है कि अब मैं पहले से ज्यादा खुश और शांति महसूस कर रही हूं।

सेरेना ने दुनिया भर की मुस्लिम औरतों से अपील की है कि वो भी हिम्मत दिखाएं, अपने नक़ाब को कूड़ेदान में फेंक दें या उसमें आग लगा दें।

‘सबसे घटिया देश पाकिस्तान’

इस लड़की ने अपने ब्लॉग में लिखा है कि “पाकिस्तान दुनिया का सबसे घटिया देश है। यूरोप में जब भी कहीं महिलाओं से रेप, छेड़खानी या गाली-गलौज का केस सामने आता है, तो उसमें 2 बातें पक्की होती हैं। एक तो यह कि गुनहगार पाकिस्तानी होगा और दूसरी यह कि वो मुसलमान होगा।” सेरेना ने लिखा है कि “मैं खुद भी पाकिस्तानी हूं इसलिए कोई मुझ पर नस्लवादी होने का आरोप न लगाए। जर्मनी या ब्रिटेन जैसे किसी देश में जब भी महिलाओं के साथ बदसलूकी या छेड़खानी की खबरें मैं सुनती हूं अपने मुल्क और अपने मज़हब के लिए मेरा सिर शर्म से झुक जाता है। लेकिन अब इन दोनों को हमेशा के लिए छोड़ रही हूं।”

इस्लाम छोड़ रहे हैं मुसलमान!

सेरेना ही नहीं दुनिया भर के सोचने-समझने वाले मुसलमान इस्लाम को छोड़ रहे हैं। इनमें से ज्यादातर खुद को एक्स-मुस्लिम कहलाना पसंद करते हैं। इस्लामी आतंकवाद और कट्टरपंथी ताकतों के उभार के बाद भारत समेत दुनिया भर में यह ट्रेंड बढ़ता जा रहा है। इस बारे में पिछले दिनों न्यूज़लूज़ पर एक रिपोर्ट भी पब्लिश की थी। नीचे लिंक पर क्लिक करके आप इसे भी पढ़ सकते हैं।

रिपोर्ट पढ़ें: इस्लाम छोड़कर एक्स-मुस्लिम क्यों बन रहे हैं मुसलमान?

(इस लेख की सारी बातें सेरेना के हवाले से लिखी गई हैं, उसका ट्विटर एकाउंट है- @Atheistserena और उसका ब्लॉग है- https://freethinkingheretics.wordpress.com/blog/)

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , , ,