Loose Top

लड़के के यौन शोषण के आरोपी को आप का टिकट!

Photo Courtesy: Indian Express

पंजाब चुनाव में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने एक ऐसे व्यक्ति को टिकट दिया है जिस पर एक लड़के के साथ कुकर्म करने का आरोप है। आप ने रूपनगर विधानसभा सीट से अमरजीत सिंह को उम्मीदवार बनाया है। लुधियाना पुलिस के रिकॉर्ड्स के मुताबिक अमरजीत सिंह पर अपने 17 साल के ड्राइवर के यौन शोषण और उसके साथ मारपीट का केस चल रहा है। पंजाब में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच यह चर्चा जोरों पर हैं अमरजीत सिंह ने टिकट के बदले में कई करोड़ रुपये दिए हैं। इसलिए पार्टी उन पर इतने गंभीर आरोप को भी नजरअंदाज कर रही है।

कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल को बताया था!

अमरजीत सिंह पर लड़के के साथ कुकर्म का यह केस अभी चल रहा है और मेडिकल रिपोर्ट्स में इसकी पुष्टि भी हो चुकी है। उम्मीदवारों की जांच पड़ताल के दौरान भी अमरजीत सिंह पर इस मुकदमे के बारे में जानकारी दी गई थी। लेकिन अरविंद केजरीवाल ने इसे गंभीर अपराध नहीं माना और नजरअंदाज करते हुए रूपनगर असेंबली सीट से उन्हें टिकट दे दिया गया। खुद आम आदमी पार्टी के ही एंटी-करप्शन सेल के सदस्यों ने इस बारे में दिल्ली में जाकर अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी। इन कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल को उस घटना के बारे में विस्तार से बताया भी था। इसके बावजूद लिस्ट में अमरजीत सिंह का नाम देखकर हर कोई चौंक गया।

‘केजरीवाल सामने कुछ, पीठ पीछे कुछ’

केजरीवाल से उनके घर जाकर मिलने वाले तीन में से एक वॉलेंटियर ने हमें बताया कि जब उन लोगों ने अरविंद केजरीवाल को इस केस के बारे में जानकारी दी थी तो सीएम इसे बहुत गंभीर मामला बताया था। उन्होंने यहां तक कहा कि “आप लोगों ने बताकर अच्छा किया। अब आप लोग बिल्कुल चिंता मत कीजिए।” इस वॉलेंटियर ने कहा कि “इस घटना ने मेरी आंखें खोल दी हैं। क्योंकि अगर वो अपने समर्पित कार्यकर्ताओं से इस तरह झूठ बोल सकते हैं, तो बाकी किसी के बारे में क्या कहें।” इन लोगों ने शनिवार को केजरीवाल से दोबारा मिलकर इस बारे में बातचीत करनी चाही तो उन्होंने मिलने से भी मना कर दिया।

कौन है अमरजीत सिंह?

नूरपुर बेड़ी ब्लॉक के संदोवा गांव का रहने वाला अमरजीत सिंह 1997 में कमाने के लिए दिल्ली चला गया। वहां पर उसने एक टैक्सी स्टैंड पर हेल्पर के रूप में काम शुरू किया। आज वो दिल्ली के सरिता विहार में टैक्सी स्टैंड चलाता है। यहां पर उसकी खुद की 14 गाड़ियां हैं। 20 साल के अंदर हेल्पर से टैक्सी ऑपरेटर तक का उसका सफर भी काफी रहस्यमय बताया जाता है। दिल्ली में उसके टैक्सी स्टैंड से जुड़े एक शख्स ने बताया कि अमरजीत पुलिस केस होने के बावजूद आज भी नाबालिग लड़कों के शोषण का ‘शौकीन’ है। यह बात उसके स्टैंड के सारे ड्राइवर जानते हैं। हालांकि कोई भी सामने आकर यह बात कहने को तैयार नहीं हुआ। आम आदमी पार्टी ने टिकट देते वक्त उसे ‘स्मॉल स्केल ट्रांसपोर्टर’ बताया है, जबकि अमरजीत की जायदाद करोड़ों में बताई जा रही है।

पंजाब में ज्यादातर दागियों को टिकट दिए

राजनीति में ईमानदारी और साफ-सफाई की वकालत करते-करते नेता बने अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में अब तक जितने टिकट बांटे हैं उनमें से ज्यादातर दागी किस्म के लोग हैं। हाल में जिन 32 लोगों को टिकट दिए गए हैं उनमें से 24 पर अपराध के गंभीर मामले रहे हैं। कुछ ऐसे हैं जिन पर मुकदमे तो नहीं हैं लेकिन उनकी इलाके में छवि अच्छी नहीं मानी जाती।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Popular This Week

Don`t copy text!