दिल्लीवाले इंतजार करते रहे, मुंबई में काम चालू आहे!

(फाइल)

दिल्ली में अरविंद केजरीवाल सरकार फ्री वाई-फाई (WiFi) का वादा करके चुनाव जीती थी, लेकिन अब तक इसका कहीं भी अता-पता नहीं है। उधऱ मुंबई में वाई-फाई पर काम शुरू भी हो गया। अगले साल मई तक शहर भर में कुल 1200 वाई-फाई ज़ोन बन जाएंगे जहां पर बैठकर कोई भी आराम से इंटरनेट सर्फ कर सकेगा। इनमें से करीब 500 वाई-फाई ज़ोन अगले 2 से 3 महीने में स्टार्ट हो जाएंगे। महाराष्ट्र सरकार ने इस बारे में विधानसभा में जानकारी दी है।

मुंबई की हर अहम जगह पर होगा वाई-फाई

वाई-फाई कनेक्टिविटी लगभग हर ऐसी जगह पर होगी जहां पर लोग बड़ी संख्या में होते हैं। फिलहाल लगभग सभी बड़े बाजारों और दूसरे पब्लिक प्लेसेज़ को इसके तहत कवर किया जा रहा है। इनमें गेटवे ऑफ इंडिया, चौपाटी समेत लगभग सभी अहम जगहें शामिल हैं। यह वाई-फाई शुरू में कुछ समय के लिए फ्री रहेगा। बाद के घंटों के लिए कुछ फीस ली जाएगी। हालांकि यह भी काफी कम होगी। महाराष्ट्र सरकार ने वाई-फाई प्रोजेक्ट को इस तरह से प्लान किया है कि इसकी वजह से सरकारी खजाने पर बहुत ज्यादा बोझ भी न पड़े और ज्यादा से ज्यादा लोग इस सुविधा का फायदा उठा सकें। इस पूरे प्रोजेक्ट के लिए सरकार की तरफ से अभी तक कोई प्रचार या दिल्ली की तरह हो-हल्ला भी नहीं मचाया गया। यह इंतजाम किया गया है कि जो वाई-फाई सुविधा लोगों को मिले वो हाईस्पीड हो।

चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी लगाने का काम जारी

दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने 10 से 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने का चुनावी वादा किया था। यह प्रोजेक्ट कहां तक पहुंचा इस बारे में किसी को जानकारी नहीं है। सड़कों और बाजारों में वादे के मुताबिक सीसीटीवी कैमरों का कुछ भी अता-पता नहीं है। उधर महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में सीसीटीवी लगाने के प्रोजेक्ट पर काम शुरू भी कर दिया। इसके तहत सभी अंदरूनी सड़कों को भी सीसीटीवी कैमरे के दायरे में लाया जा रहा है। सीसीटीवी लगाने का ये प्रोजेक्ट इसी साल नवंबर-दिसंबर तक पूरा भी हो जाएगा।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , , ,