Loose Top

केजरीवाल जी, क्या ये गड्ढे भरने से भी मोदी ने रोका है?

यही वो गड्ढा है जिसमें गिरने से बाइक सवार की मौत हुई।

दिल्ली में जगह-जगह गड्ढों में गिरकर लोगों के मरने का सिलसिला जारी है। शनिवार शाम वसंत कुंज में एक मॉल के आगे सड़क के गड्ढे में एक बाइक सवार की जान चली गई। यह गड्ढा बीते 3-4 दिन से चल रही बारिश में बना था। इलाके के लोगों ने बार-बार दिल्ली सरकार के पीडब्लूडी विभाग से इसकी शिकायतें कर रहे थे, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। हैरत की बात है कि दिल्ली में आए दिन ऐसे हादसे हो रहे हैं, बारिश में सड़कों का बुरा हाल है, लेकिन केजरीवाल सरकार पंजाब, हरियाणा और गुजरात की सरकारों के कामकाज पर छींटाकशी करने में बिजी है। सवाल यह है कि क्या इन गड्ढों को भी भरने से मोदी ने रोका है?

गड्ढे में गिरकर 45 साल के शख्स की मौत

शनिवार देर शाम 45 साल का एक शख्स यहां से गुजर रहा था। उसकी बाइक का अगला चक्का गड्ढे में धंस गया। तभी पीछे से आ रहे एक टैंकर ने उसे रौंद दिया। हादसे में इस शख्स की मौके पर ही मौत हो गई। ट्रक ड्राइवर मौके से भाग निकला। चश्मदीदों के मुताबिक इस हादसे से पहले कई बाइक सवार यहां पर गिर चुके थे। सवाल यह है कि इतनी व्यस्त सड़क पर बने गड्ढे की दिल्ली सरकार को परवाह तक नहीं थी।

 

केजरीवाल सरकार की जानलेवा लापरवाही

बीते कुछ सालों में ऐसा पहली बार हो रहा है कि बारिश के सीजन में सरकार ने न के बराबर तैयारी की है। बारिश से ठीक पहले दिल्ली में कई जगहों पर सड़कों की खुदाई शुरू कर दी गई, जबकि आम तौर पर इस वक्त खुदाई से बचा जाता है। दिल्ली सरकार पर आरोप लग रहा है कि सड़कें बनाने में बेहद घटिया सामान इस्तेमाल किया गया है। इसी वजह से बारिश की शुरुआत में ही कई जगह सड़क बह गई। इन जगहों पर रिपेयर का काम भी अब तक शुरू नहीं हुआ है। जिसकी वजह से लंबे ट्रैफिक जाम लग रहे हैं। इन गड्ढों की वजह से सड़कों पर आए दिन हादसे भी हो रहे हैं। इस पर ध्यान देने के बजाय दिल्ली के डिप्टी सीएमल मनीष सिसोदिया गुड़गांव में लगे जाम पर फब्तियां कसने में लगे हैं।

लगातार जारी है हादसों का सिलसिला

पिछले हफ्ते बुराड़ी इलाके में 9 साल के एक बच्चे के बारिश के पानी से भरे गड्ढे में डूबकर मौत हो गई थी। यह गड्ढा दिल्ली जल बोर्ड (DJB) ने खुदवाकर छोड़ा था। जब मामला सामने आया तो दिल्ली सरकार ने फौरन यह कहते हुए पल्ला झाड़ लिया कि गड्ढा बिजली कंपनी NDPL ने खुदवाया है। आए दिन ऐसे छोटे-बड़े मामले सामने आ रहे हैं लेकिन दिल्ली सरकार दूसरों पर आरोप लगाकर खुद भाग निकलने में जुटी है।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Popular This Week

Don`t copy text!