क्या 30 सितंबर तक काला धन घोषित करेंगे शाहरुख़?

देश में ब्लैक मनी रखने वाले बड़े लोगों की तलाश धीरे-धीरे अपने अंजाम तक पहुंचती दिख रही है। जो पहला नाम सामने आ रहा है वो है सुपरस्टार शाहरुख़ ख़ान का। एक दिन पहले खबर आई थी कि शाहरुख खान को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने नोटिस भेजा है और विदेशों खास तौर पर टैक्स हेवेन देशों में उनके निवेश के बारे में जानकारी मांगी है। सूत्रों के मुताबिक बरमूडा, ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड और दुबई जैसे देशों में शाहरुख ने अपनी कथित काली कमाई जमा कर रखी है। सिर्फ शाहरुख खान ही नहीं, कई और बड़े सफेदपोश कारोबारियों को विदेशों में जमा धन पर नोटिस भेजा गया है। इनमें से कई ने सिंगापुर में अपनी काली कमाई जमा कर रखी है।

क्या अपनी कमाई घोषित करेंगे शाहरुख़?

बताया जा रहा है कि इनकम टैक्स के नोटिस के पीछे एक मंशा यह है कि शाहरुख और उनके जैसे दूसरे लोग 30 सितंबर तक अपनी काली कमाई घोषित कर दें। क्योंकि अभी तक ऐसा लग रहा है कि बहुत सारे लोग सरकार के अल्टीमेटम को ज्यादा गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। मोदी सरकार की कोशिश है कि कुछ बड़ी मछलियों को दबाव में लिया जाए ताकि इस मुद्दे को मीडिया पब्लिसिटी मिले और ऐसे लोग अपनी काली कमाई घोषित करने को मजबूर हो जाएं। यह देखने वाली बात होगी कि 30 सितंबर तक मिली राहत का फायदा शाहरुख भी उठाते हैं या नहीं।  केंद्र सरकार की स्कीम के तहत कोई भी अपनी काली कमाई को 30 सितंबर तक घोषित कर सकता है। इसके तहत उसे रकम पर टैक्स के अलावा 45 फीसदी जुर्माना भी भरना होगा।

शाहरुख़ खान पर मिली है पक्की जानकारी!

शाहरुख खान की काली कमाई के बारे में सरकार को पक्की जानकारी मिली है। जिसके आधार पर

  • इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने उनसे विदेशों में चल रही उनकी कंपनियों की जानकारी मांगी है।
  • शाहरुख़ को सवालों की एक लंबी-चौड़ी लिस्ट भेजी गई है।
  • यह नोटिस इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन-131 के तहत भेजा गया है।
  • इसके तहत जानकारी की जांच की जा सकती है
  • प्रवर्तन निदेशालय ऐसी ही एक जांच पहले से कर रहा है।

शाहरुख ने नहीं दी कोई सफाई

मीडिया की खबरों के मुताबिक इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के सवालों पर शाहरुख या उनके बिजनेस मैनेजर की तरफ से कोई सफाई नहीं दी गई है। इससे पहले इन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट की जांच की वजह से शाहरुख पहले से ही काफी दबाव में हैं। जब उन्हें ED का नोटिस आया था उसी वक्त उन्होंने यह कह कर सनसनी फैला दी थी कि देश में बहुत असहिष्णुता है।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , ,