जब सरिस्का में बाघिन ने किया तेंदुए का शिकार!

Courtesy: YouTube

राजस्थान में अलवर के सरिस्का अभयारण्य में एक बाघिन ने तेंदुए का शिकार कर लिया। इस घटना को सैलानियों की एक टीम ने काफी करीब से देखा। सैलानियों की एक जिप्सी काला कुआं के पास से गुजर रही थी तभी उन्हें शिकार की आवाज सुनाई दी। इसके बाद जिप्सी के इंजन को बंद कर दिया गया। सैलानियों ने करीब 20 मिनट तक शिकार को देखा। जिस बाघिन ने शिकार किया उसको यहां टी-3 के नाम से जाना जाता है। यह बाघिन 2009 में रणथंभौर से सारिस्का में शिफ्ट की गई थी।

नीचे दोनों वीडियो लिंक्स पर क्लिक करके आप शिकार के इस वीडियो को देख सकते हैं।

तेंदुआ आम तौर पर बाघ जैसा ही फुर्तीला जानवर होता है। लेकिन ताकत के मामले में बाघ से कमजोर पड़ जाता है। आम तौर पर बाघ, शेर और तेंदुए आपस में एक-दूसरे का शिकार नहीं करते। लेकिन कई बार ऐसी घटनाएं होते देखा गया है। आम तौर पर बाघ ऐसा तब करते हैं जब तेंदुआ जंगल में उनके क्षेत्र में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहा हो।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , , , ,