मोदी बोल रहे थे, कुछ लोगों को मिर्ची लग रही थी!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के दौरान जब अमेरिकी संसद में तालियां बज रही थीं, तो देश में कुछ लोग इस पर चुटकियां ले रहे थे। इनमें कई बड़े पत्रकार दूसरे नामी लोग भी थे जो विदेश में अपने देश के प्रधानमंत्री के भाषण पर फिकरे कस रहे थे। आम तौर पर देश का प्रधानमंत्री जब किसी विदेशी मंच पर भाषण दे रहा होता है तो उसे देश की आवाज माना जाता है और लोग इसे पार्टी राजनीति से ऊपर उठकर देखते हैं। लेकिन एक बड़ा तबका है जो ऐसे मौकों पर देश को मिल रहे सम्मान को भी पचा नहीं पाता।



ट्विटर पर छाया #ModiInUS

वैसे तो मोदी के भाषण के शुरू होने से पहले ही ट्विटर पर #ModiInUS ट्रेंड छा चुका था। पहले दो घंटे में ही एक लाख से ज्यादा लोगों ने इस हैशटैग पर ट्वीट किए थे। कुछ देर के लिए यह अमेरिका के भी टॉप ट्रेंड लिस्ट में रहा। इनमें से ज्यादातर ट्वीट्स मोदी के भाषण की तारीफ में थे। कई लोगों ने उन तस्वीरों को बहुत पसंद किया जिनमें लोग अमेरिकी सांसद लाइन लगाकर पीेम मोदी से उनके ऑटोग्राफ लेते नज़र आ रहे थे। जाहिर है करोड़ों लोगों के लिए यह गर्व का मौका था, क्योंकि एक समय था पीएम मोदी को अमेरिका जाने से रोकने के लिए 65 सांसदों ने दस्तखत करके चिट्ठी भेजी थी।

पहले भी मोदी समर्थकों से उलझ चुके हैं राजदीप

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: ,