Loose Top

केरल के खेल मंत्री ने महिला एथलीट से बदसलूकी की

केरल में वामपंथी सरकार के खेल मंत्री ईपी जयराजन नए विवाद में फंस गए हैं। देश की टॉप एथलीट्स में से एक अंजू बॉबी जॉर्ज ने उन पर बदसलूकी का आरोप लगाया है। अंजू बॉबी जॉर्ड अर्जुन पुरस्कार भी पा चुकी हैं। फिलहाल वो केरल स्पोर्ट्स एसोसिएशन की हेड हैं। मंत्री का बर्ताव उन्हें इतना बुरा लगा कि मुख्यमंत्री पी विजयन से मिलकर शिकायत को मजबूर होना पड़ा।


खेल मंत्री को खेलों में कोई रुचि नहीं!

केरल में हाल ही में नई सरकार बनी है। खेल एसोसिएशन की अध्यक्ष होने के नाते अंजू 7 जून को खेल मंत्री जयराजन से मिलने गई थीं। लेकिन वहां पर मंत्री ने खेलों के बारे में बात करने के बजाय यह कहना शुरू कर दिया कि आप लोग दूसरी पार्टी के हो और आपको पिछली सरकार ने यह पद दिया है। मंत्री जी यहीं नहीं रुके उन्होंने एथलीट के मैदान पर भारत का झंडा लहराने वाली इस एथलीट को भ्रष्टाचारी तक कह डाला।

अंजू का किसी पार्टी से ताल्लुक नहीं

अंजू जॉर्ज का किसी राजनीतिक दल से कोई संबंध नहीं रहा है। टॉप एथलीट रहे होने की वजह से उन्हें स्पोर्ट्स एसोसिएशन की कमान सौंपी गई थी। ऐसे में उनके लिए खेल मंत्री की कही बातों को बर्दाश्त करना आसान नहीं था। अंजू ने कहा कि “वो हमें पद छोड़ने को कहते तो हम इसके लिए भी तैयार हो जाते, लेकिन हम यह नहीं सुन सकते कि हमने अपना काम ठीक से नहीं किया है। खेल मंत्री को राज्य के खिलाड़ियों से सही ढंग से बर्ताव करना आना चाहिए।”


मुहम्मद अली को बताया था केरल का

ईपी जयराजन वही खेल मंत्री हैं, जिन्होंने मशहूर बॉक्सर मुहम्मद अली के निधन पर उन्हें केरल का रहने वाला बता दिया था। जयराजन खेल मंत्री हैं, लेकिन उन्हें इतना भी नहीं पता कि मुहम्मद अली किस खेल से ताल्लुक रखते हैं। अंजू जॉर्ज से बदतीमी के बारे में पूछने पर उन्होंने अपना पल्ला झाड़ लिया। जयराजन का कहना है कि मैंने कोई बदतमीजी नहीं की। अंजू जो आरोप लगा रही हैं वो बिल्कुल गलत है।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या कांग्रेस का घोषणापत्र देश विरोधी है?

View Results

Loading ... Loading ...