Loose Views

केजरीवाल जी, CCTV लगाओ, जंगलराज भगाओ!

आदरणीय अरविंद केजरीवाल जी, नमस्ते।
आपकी दिल्ली सल्तनत का वाशिंदा हूं। चुनाव में आपको वोट नहीं दिया था। उम्मीद है इसके बावजूद आप मेरी चिट्ठी को पूरा पढ़ेंगे और जवाब देंगे। आपको शिकायत रहती है कि प्रधानमंत्री आपकी चिट्ठियों का जवाब नहीं देते। उम्मीद करता हूं कि आप वैसा बिल्कुल नहीं करेंगे। मेरे जैसे आम आदमी की चिट्ठी का फेसबुक पर ही आकर रिप्लाई करेंगे। अखबारों और टीवी चैनलों से पता चला कि आप दिल्ली में लॉ एंड ऑर्डर के बिगड़ते हालात से बहुत परेशान हैं। आपकी परेशानी बिल्कुल सही है। लेकिन इसी वक्त दिल्ली में बिजली और पानी की भी थोड़ी दिक्कत चल रही है। उसके बारे में जब आपसे पूछा गया तो आपने अपने डंडे की सख्ती और लंबाई का वास्ता दे दिया था। हमें तो समझ में नहीं आया कि उसका मतलब क्या होता है। बस इतना पता चला था कि जिस दिन आपने वो बयान दिया था उसी दिन मयूर विहार पॉकेट-4 में 4 घंटे से ज्यादा गायब रही थी। आपके मंत्री कह रहे हैं कि बिजली की कोई दिक्कत नहीं है और अगर बिजली कटती है तो उसके लिए कंपनी दोषी है। पानी तो अब मुद्दा ही नहीं रहा, क्योंकि फ्री की बछिया के दांत नहीं गिने जाते।

हर साल दिल्ली के राष्ट्रीय चैनल यहां गर्मी के मौसम में घड़े फोड़ने और बिजली कटौती के खिलाफ प्रदर्शन की खबरें दिखाते थे। बताते थे कि लू से कितने लोग मर गए। इस साल भी मैंने त्रिलोकपुरी और कल्याणपुरी की कॉलोनियों में घड़ा-फोड़ प्रदर्शन होते देखा। रात-रात भर बिजली गायब रहने से भड़ककर सड़कों पर आपके मुर्दाबाद के नारे लगाते लोग देखे। एक अखबार में कोने में छपी छोटी सी खबर देखी कि लू से दिल्ली में 500 लोग मर गए। पता नहीं क्यों ये सब इस साल चैनलों और अखबारों से गायब है। आपने कौन सी जादू की छड़ी घुमाई जिससे ये सारी गंदी-गंदी खबरें गायब हो गईं? जो भी हो इसके लिए आप तारीफ के पात्र हैं।

आप कह रहे हैं कि दिल्ली की इकलौती समस्या लॉ एंड ऑर्डर है, दिल्ली में जंगलराज है… तो हम इस बात को भी मान लेते हैं। इस बारे में आपको एक सुझाव देना चाहता हूं। चुनाव के टाइम आपने कहा था कि 2 साल के अंदर आप पूरी दिल्ली में 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगवा देंगे। दो साल तो पूरा होने को हैं। काम करने की आपकी जो स्पीड है उससे पूरा भरोसा है कि 15 लाख में से 8-10 लाख कैमरे तो लग भी गए होंगे। दिल्ली में अपराधियों को डराने के लिए इतने कैमरे तो वैसे भी काफी हैं। जब भी कोई अपराधी हत्या या लूटमार करने जाता होगा वो कहीं न कहीं आपके कैमरे में जरूर कैद हो जाता होगा। प्लीज़ इन कैमरों का वीडियो न्यूज चैनलों और दिल्ली पुलिस को भी देना शुरू कर दें। इससे उन अपराधियों की पहचान हो जाएगी और पुलिस को उन्हें मजबूरी में पकड़ना ही पड़ेगा। साथ ही दिल्ली में जंगलराज भी खत्म हो जाएगा और अपराधियों से परेशान आम जनता को भी थोड़ी राहत मिल जाएगी। जनहित में दिए इस आइडिया के लिए मैं आपसे कोई कंसल्टेंसी फीस चार्ज नहीं करूंगा। वैसे सुना है कि कंसल्टेंसी के लिए ही आपने अपने कई सेवकों को 1-1 लाख रुपये सैलरी पर रखा हुआ है। चाहें तो मेरे आइडिया का क्रेडिट उनमें से किसी को दे दें ताकि उनकी नौकरी भी जस्टिफाई हो जाए।

नमस्कार,

आपके विरोधियों का वोटर

सिद्धार्थ शर्मा

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Popular This Week

Don`t copy text!