Loose Top

बॉक्सर मुहम्मद अली केरल के फुटबॉल प्लेयर थे?

मुहम्मद अली की मशहूर तस्वीर (बायीं तरफ), दायीं तरफ केरल के खेल मंत्री ईपी जयराजन हैं।

मशहूर बॉक्सर मुहम्मद अली के निधन पर आज जब पूरी दुनिया उन्हें श्रद्धांजलि दे रही थी तभी कुछ लोग उन्हें लेकर ऐसी बातें कर रहे थे जिन्होंने लोगों को हंसने को मजबूर कर दिया। सबसे मजेदार बयान था केरल की वामपंथी सरकार के खेल मंत्री ई पी जयराजन का। खेलों का मंत्रालय संभाल रहे हैं लेकिन यही नहीं पता कि मुहम्मद अली कौन है।

मुहम्मद अली को केरल का बताया!

निधन की खबर आने के बाद केरल के चैनल मनोरमा न्यूज ने खेल मंत्री जयराजन का फोन इंटरव्यू लेना शुरू किया। सवाल पूछा कि वो उन्हें कैसे याद करना चाहेंगे तो जो जवाब मिला उसे सुनकर हर कोई हक्का-बक्का रह गया। मंत्री जी ने कहना शुरू कर दिया कि उन्होंने खेलों में केरल के लिए कई मेडल जीते और केरल की शान बढ़ाई। मंत्री के जवाब का वीडियो क्लिप आज पूरे दिन सोशल मीडिया पर छाया रहा।

मुहम्मद अली बॉक्सर नहीं फुटबॉलर!

Captureअनादिता पटेल नाम की एक लड़की ने मुहम्मद अली को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया कि वो मैराडोना, मेसी और रोनाल्डो से भी महान खिलाड़ी थे। जब लोगों की नजर इस पर पड़ी तो मज़ाक उड़ना शुरू हो गया।

थोड़ी ही देर में ये आम लड़की ट्विटर के टॉप ट्रेंड में आ गई। जब उसे गलती का एहसास हुआ तो उसने सफाई में भी एक ट्वीट किया। लेकिन थोड़ी ही देर में उसने अपना ट्विटर एकाउंट बंद कर दिया। फिलहाल तब तक अनादिता पटेल के नाम से ट्विटर पर दर्जनों फर्जी एकाउंट पैदा हो गए। कई लोगों ने तो अनादिता पटेल फैंस क्लब भी बना लिया। कई लोग उन्हें राहुल गांधी के लिए सबसे योग्य बीवी बताना भी शुरू कर दिया।

वैसे अनादिता पटेल के साथ कई लोगों की सहानुभूति भी थी। कई लोगों ने ट्विटर पर लिखा कि एक छोटी स्कूली लड़की से ऐसी गलती होना बड़ी बात नहीं है। ज्यादा बड़ी गलती केरल के उस खेल मंत्री की है जो दुनिया के महानतम स्पोर्ट्समैन मुहम्मद अली को नहीं जानता। एक व्यक्ति ने लिखा है कि अनादिता तुम फिक्र मत करो, आज का दिन तुम्हारा था। अब तुम्हें सारा देश जानता है। तुम अपनी पढ़ाई पर फोकस करो और ट्विटर पर खिंचाई करने वालों की जरा भी परवाह मत करो।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या कांग्रेस का घोषणापत्र देश विरोधी है?

View Results

Loading ... Loading ...