Loose Views

अगले साल दिल्ली के मेयर बनेंगे राहुल गांधी!

अरुण पांडेय नोएडा में ज़ी बिज़नेस में कार्यरत हैं।
अरुण पांडेय नोएडा में ज़ी बिज़नेस में कार्यरत हैं।

2017 MCD के चुनाव का चेहरा राहुल गांधी? ये मैं नहीं कह रहा बातों ही बातों में ये चमकचिंदी बात कही है ललित माकन ने, जोकि कांग्रेस में किसी चीज के प्रभारी हैं। 13 में से 4 वार्डों पर जबरदस्त जीत का परचम लहराने के बाद जब माकन से रिएक्शन ली गई तो उन्होंने आव देखा ना ताव दे दनादन फायर शुरू कर दिए। जैसे कांग्रेस की वापसी हो रही है, ये वार्ड मेंबरी जीत कर हमने बता दिया है कि लोग आप और बीजेपी से त्रस्त हो गए हैं, बीजेपी सांप्रदायिक पार्टी है और आप भी कुछ कुछ गड़बड़ है, अच्छे हमीं हैं और लोग अब जान गए हैं…। माकन जी यहीं नहीं रुके, बोले ये जीत राहुल गांधी की जीत है, लोगों ने उनके करिश्माई नेतृत्व को वोट दिया है।
माकन जी आप होश में तो हैं… 13 में से 4 वार्ड पर जीते और जीत दिलाई राहुल जी ने तो बाकी नौ वार्ड पर राहुल जी का जादू क्यों नहीं चला। अच्छा चलो मान लिया राहुल की की वजह से जीत हुई है यानी आपका इशारा है कि 2017 के दिल्ली नगर निगम के चुनाव राहुल गांधी की अगुआई में लड़े जाएं, आप उन्हें मेयर पद का चेहरा बताना चाहते हैं।
गुरुजी बंद कर दो ऐसा चाटुकारिता अब ये फैशन में नहीं है, पहले रही होगी पर अब लोग ऐसी चाटुकारिता देखकर विचलित हो जाते हैं। इसी पार्टी के एक और नेता हैं, कोई नरेंद्र नाथ शायद दिल्ली में मंत्री भी रहे हैं, वो तो दो कदम आगे निकल गए 4 वार्डों में जीत के साथ ही कांग्रेस की सत्ता में वापसी उन्हें तय लगने लगी, बोले 2017 के दिल्ली नगर निगम चुनाव, 2019 के लोकसभा चुनाव और 2020 के दिल्ली विधानसभा चुनाव सब जगह कांग्रेस ही सत्ता में आएगी।
दरअसल माकन जी को मैंने जब तक सुना नहीं था तब तक पता नहीं क्यों मैं उन्हें ठीक ठाक नेता मानता था, पर जब जब सुनता हूं तब तक कांग्रेस के बुरे दिनों की आहट मिलने लगती है।
दरअसल इंदिरा गांधी के बाद कांग्रेस से साहस भी चला गया। इसलिए जब तक पुरानी जमा पूंजी चली तब तक सत्ता चली अब.. टोटा ही टोटा…।
कुछ इसी तरह से मध्य प्रदेश में इतनी कारगुजारियां सामने आने के बावजूद कांग्रेस के बड़े नेता घर में बैठकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं कि लोग कभी ना कभी तो बोर होंगे और खुद ब खुद कांग्रेस को सत्ता सौंप देंगे।

(यह लेख वरिष्ठ पत्रकार अरुण पांडेय के फेसबुक पेज से साभार लिया गया है।)

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Popular This Week

Don`t copy text!