Loose Views

क्या अब एक ‘कसाई’ को राज्य सभा भेजेगी कांग्रेस?

कट्टरपंथी और भड़काऊ बयान देने वाले नेता की इमेज के बावजूद इमरान मसूद को राहुल गांधी की शह मिलती रही है। (फाइल फोटो)
गोविंद सिंह परमार के फेसबुक पेज से साभार
गोविंद सिंह परमार के फेसबुक पेज से साभार

इमरान को जानते हो, अरे क्रिकेट वाले नहीं, अपने सहारनपुर वाले इमरान मसूद भाई। जिन्होंने नरेंद्र मोदी को काट डालने, टुकड़े टुकड़े करने की बात लोकसभा चुनावों के वक्त की थी।

अब शायद राज्यसभा, अरे वही अपना उच्च सदन, जहां बड़े-बड़े वैज्ञानिक, खिलाड़ी, प्रोफेसर अपने-अपने क्षेत्रों के महारथी सदस्य रहे, वहां पर अब अपने इमरान मसूद भाई पहुंचने वाले हैं। अपनी गांधी-नेहरू वाली कांग्रेस उन्हें उच्च सदन का सदस्य बनाएगी, ताकि वो नरेंद्र मोदी, डॉक्टर सुब्रह्मण्यन स्वामी, सीताराम येचुरी, प्रोफेसर रामगोपाल यादव, अरुण जेटली, सचिन तेंदुलकर, रेखा वगैरह के साथ बैठकर “उच्च सदन” की गरिमा बढ़ा सकें। देश कांग्रेस के इस महान उपकार को सदैव याद रखेगा।

नोट- ऐसी खबरें चल रही हैं कि कांग्रेस अपने कोटे से सहारनपुर के मुस्लिम नेता इमरान मसूद को राज्यसभा भेजने वाली है।

कौन हैं इमरान मसूद?

इमरान मसूद 2014 के लोकसभा चुनाव के वक्त तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की बोटी-बोटी काट डालने की धमकी दी थी। उस वक्त उनका वीडियो टेप पूरे देश में वायरल हुआ था। तब भड़काऊ भाषण देने के आरोप में इमरान मसूद को गिरफ्तार भी किया गया था। नीचे यूट्यूब लिंक पर क्लिक करके आप मसूद का वो बयान सुन सकते हैं।

इमरान मसूद के पिता बुजुर्ग कांग्रेसी नेता रशीद मसूद हैं। जो भ्रष्टाचार के मामले में चार साल जेल की सजा काट रहे हैं। फिलहाल वो जमानत पर बाहर हैं। रशीद मसूद ऐसे पहले नेता थे, जिन्हें भ्रष्टाचार की वजह से अपनी सांसद की कुर्सी गंवानी पड़ी थी। इस केस में वो 18 महीने से ज्यादा जेल की सजा काट भी चुके हैं।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या कांग्रेस का घोषणापत्र देश विरोधी है?

View Results

Loading ... Loading ...