2 साल में 2 लाख से ज्यादा भर्तियां होने वाली हैं!

लगता है कि 2 साल के सख्त फैसलों के बाद नरेंद्र मोदी सरकार अब जनता को खुश करने के हिसाब से काम शुरू कर रही है। अगले 2 साल में केंद्र सरकार की नौकरियों में 2 लाख से ज्यादा भर्तियां की जाएंगी। पिछले काफी समय से केंद्र सरकार की नई भर्तियों पर रोक लगी हुई थी। बहुत जरूरी होने पर सिर्फ खाली पदों के लिए ही बहालियां हो रही थीं। अभी 1 मार्च 2015 के हिसाब से देशभर में केंद्रीय कर्मचारियों की कुल संख्या 33 लाख 5 हजार के करीब है। 2017 तक सरकार इसे बढ़ाकर 35 लाख 23 हजार के करीब करना चाहती है। इनमें सेना की भर्तियां शामिल नहीं हैं।

बड़े पैमाने पर निकलने वाली हैं वैकेंसी

सबसे ज्यादा करीब 70 हजार लोगों की भर्ती रेवेन्यू डिपार्टमेंट्स में होगी। इसके तहत इनकम टैक्स, कस्टम और एक्साइज जैसे विभाग आते हैं। दूसरे नंबर पर अर्धसैनिक बलों में भर्तियां होंगी। यहां पर 47 हजार के करीब लोगों की बहाली होनी है। इसी तरह गृह मंत्रालय के अलग-अलग विभागों के लिए 6 हजार के करीब लोग रखे जाने हैं।

ज्यादातर पोस्ट ग्रुप-बी और सी की

ज्यादातर भर्ती ग्रुप-बी और सी के पदों पर होनी हैं। आम तौर पर सरकारी दफ्तरों में इन्हीं पदों के लोग काम करते हैं। अभी ज्यादातर सरकारी विभागों में स्टाफ की भारी कमी है, जिसकी वजह से सरकारी दफ्तरों में आम लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ता है। अब भर्तियों का जो अभियान शुरू किया गया है, वैसा पहले कभी नहीं हुआ।

सिफारिश और धांधली का कोई चांस नहीं

भर्ती अभियान में सारा फोकस योग्य उम्मीदवारों को लेने पर रहेगा। इसके लिए ज्यादातर जगहों पर ऑनलाइन सिस्टम से परीक्षा कराई जानी है, जिसमें धांधली का कोई चांस नहीं होगा। ग्रुप-बी और सी के लिए इंटरव्यू पहले ही खत्म किया जा चुका है। जिससे भर्ती के वक्त सिफारिश या रिश्वत की गुंजाइश खत्म हो गई है।

कई साल से खाली पड़े हैं पद

केंद्र सरकार के अनुमान के मुताबिक केंद्र सरकार के विभागों में अभी कुल मिलाकर करीब 6 लाख कर्मचारियों के भर्ती की जरूरत है। ये पद कई-कई साल से खाली पड़े हैं। इनमें प्रशासनिक पदों से लेकर क्लर्क तक शामिल हैं।

रेलवे में पहले से भर्ती का काम जारी

रेलवे में अलग-अलग पदों के लिए 18 हजार कर्मचारियों की भर्ती की प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है। तीन साल पहले रेलवे के कर्मचारियों की संख्या 13 लाख 26 हजार से कुछ ज्यादा थी। तब से अब तक एक भी नई भर्ती नहीं हुई थी। अकेले रेलवे में ही 60 हजार पद खाली हैं। रेल मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक अभी पहले दौर में 18 से 20 हजार नए लोग रखे जा रहे हैं। इसके बाद बाकी रिक्त पदों के लिए भी बहाली शुरू कर दी जाएगी।

comments

Tags: , ,