Home » Loose Top » दाऊद की बीमारी की खबर झूठी, ISI की है चाल!
Loose Top

दाऊद की बीमारी की खबर झूठी, ISI की है चाल!

दाऊद इब्राहिम को गैंगरीन होने के बारे में मीडिया में चल रही खबरें सही नहीं हैं। गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक खुफिया एजेंसियों से ऐसा कोई इनपुट नहीं मिला है। माना जा रहा है कि पाकिस्तानी इंटेलिजेंस एजेंसी आईएसआई (ISI) ने ही यह खबर भारतीय मीडिया के जरिए फैलाई हो।

दाऊद की बीमारी का झूठ क्यों?

कराची में रह रहे डॉन को ISI ने कड़ी सुरक्षा दे रखी है। लेकिन ISI इस बात को लेकर बेहद परेशान है कि कभी भी उस पर हमला हो सकता है। नरेंद्र मोदी सरकार बनने के बाद से यह डर और भी बढ़ गया है। क्योंकि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल दाऊद के मामले में निजी रुचि लेते रहे हैं। ISI को लगता है कि किसी कोवर्ट ऑपरेशन में किसी भी दिन हमला हो सकता है। इसीलिए उसकी सेहत और लोकेशन को लेकर भ्रम फैलाने की कोशिश हो रही है। यह तर्क इसलिए भी सही लगता है क्योंकि ISI पहले भी कई बार ऐसी खबरें भारतीय मीडिया में प्लांट करवा चुकी है और हर बार ये गलत साबित होती रही हैं।

खुफिया एजेंसियों की नज़र में है दाऊद

दाऊद की लोकेशन, डेली रुटीन और मूवमेंट की जानकारियां बेहद सीक्रेट रखी जाती हैं। यहां तक कि उसके खासमखास गुर्गों को भी इस बारे में नहीं पता होता है। इसके बावजूद भारत और कुछ विदेशी खुफिया एजेंसियां उसकी गतिविधियों पर नजर बनाए हुए हैं। इन्होंने ही पिछले दिनों इनपुट दिया था कि दाऊद कराची से रावलपिंडी गया है। इसके बाद पता चला था कि वो अफगानिस्तान में किसी जगह पर कुछ दिन रहा। फिलहाल उसके कराची में ही होने की खबर है।

दाऊद को लाने की कोशिश है जारी

सूत्रों के मुताबिक इस मोस्ट वांटेड को जिंदा या मुर्दा पकड़ने की कोशिशें जारी हैं। पाकिस्तान से होने वाली परदे के पीछे की हर बातचीत में उसका जिक्र होता है और भारत डिप्लोमेटिक मोलभाव के जरिए दाऊद को लाने की कोशिश कर रहा है। इस सबके अलावा पाकिस्तान में एक्टिव देसी-विदेशी खुफिया एजेंट्स को भी सही मौके की तलाश है।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

 Loading ...

Donate to Newsloose.com

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

या स्कैन करें

Popular This Week

Don`t copy text!