अमेरिका का बलात्कारी भारत में पादरी बन गया!

बायीं तस्वीर बलात्कारी पादरी जोसेफ जयापॉल की है। बीच की तस्वीर ऊटी, तमिलनाडु की वो चर्च है जिसमें जयापॉल पादरी बना है। दायीं तरफ तीसरी तस्वीर पीड़ित महिला की है।

अमेरिका में एक नाबालिग से बलात्कार का गुनाह कबूलने वाला भारतीय मूल का एक पादरी भारत लौटकर फिर से चर्च का फादर बन गया। ये मामला पिछले साल सामने आया था, जब मेगन पीटरसन नाम की एक अमेरिकी महिला ने फादर जोसेफ पी जयापॉल पर बलात्कार का आरोप लगाया था। महिला ने बताया था कि जब वो सिर्फ 14 साल की थी तो जयापॉल ने उसके साथ कई बार बलात्कार किया था। कम उम्र की वजह से वो काफी समय तक किसी से शिकायत करे की हिम्मत नहीं जुटा सकी। बड़े होने के बाद उसने पादरी जयापॉल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

वेटिकन ने फिर से पादरी बनाया

पादरियों की नियुक्ति करने वाली रोमन कैथोलिक संस्था ने वेटिकन की मंजूरी मिलने के बाद जयापॉल को पिछले दिनों तमिलनाडु की एक चर्च का कार्यभार सौंप दिया। जयापॉल के पुराने इतिहास की जानकारी के बावजूद वेटिकन ने उसे भारत में पादरी बनाए जाने पर कोई एतराज नहीं जताया। अमेरिका में बलात्कार का दोषी पाए जाने के बाद पिछले ही साल वेटिकन ने उस पर पाबंदी लगा दी थी। जयापॉल की उम्र 61 साल है।

पीड़ित महिला ने विरोध दर्ज कराया

नाबालिग उम्र में पादरी के हाथों बलात्कार की शिकार हुई अमेरिकी महिला ने भारत में रोमन कैथोलिक संस्थाओं से औपचारिक विरोध दर्ज कराया है। उसने अपनी शिकायत में कहा है कि इस खबर ने उसके पुराने जख्मों को कुरेद दिया है। महिला ने भारत में रोमन कैथोलिक संस्थाओं के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ने की बात भी कही है। उसने बताया है कि 2004 में मिनेसोटा के क्रुकस्टन में पादरी रहते जयापॉल ने उसे लगातार अपनी हवस का शिकार बनाया था। 2005 में जयापॉल भारत चला आया था। शिकायत सामने आने के बाद वेटिकन ने 2010 में उससे सस्पेंड कर दिया था। मार्च 2012 में ही भारत सरकार ने उसे गिरफ्तार करके अमेरिका को प्रत्यर्पण कर दिया था। जहां पर वो जेल में भी रहा। बाद में अपना अपराध कबूल कर उसने सजा से माफी पा ली।

भारत में ईसाई संगठनों ने साधी चुप्पी

एक बलात्कारी को चर्च का पादरी बनाने पर भारत में ईसाई संगठनों ने चुप्पी साध रखी है। यहां तक कि रोमन कैथोलिक संस्थाएं इसे सही ठहराने की भी कोशिश कर रही हैं। इस बीच, पीड़ित महिला ने कहा है कि जरूरत पड़ी तो वो भारत जाकर इस दरिंदे पादरी की पोल सबको बताएगी।

comments

Tags: ,