कांग्रेस की सरकार बचाने उत्तराखंड में हैं स्वरूपानंद?

बायीं तस्वीर कल की है, जब हरिद्वार के आश्रम में कांग्रेस की सीनियर नेता इंदिरा हृदयेश ने शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती से मुलाकात की थी।

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती इन दिनों उत्तराखंड में जमे हुए हैं। वैसे तो वो अक्सर यहां हरिद्वार के कनखल में अपने आश्रम में वक्त बिताते हैं, लेकिन सूत्रों के मुताबिक इस बार शंकराचार्य के वहां प्रवास का मकसद राजनीतिक है। शंकराचार्य के एक करीबी के मुताबिक वो सोनिया गांधी के कहने पर उत्तराखंड में हैं और कोशिश कर रहे हैं कि किसी तरह कांग्रेस के बागी विधायकों को मनाकर सरकार पर आए संकट का हल निकाल सकें। दावा यह भी है कि शंकराचार्य अपने कुछ विश्वस्त लोगों के माध्यम से बीजेपी के कुछ सांसदों के भी संपर्क में हैं। इसी सिलसिले में कांग्रेस की सीनियर नेता इंदिरा हृदयेश ने बुधवार को उनसे मुलाकात भी की थी।

राजनीतिक बयानबाजी कर रहे हैं शंकराचार्य

कुछ दिन पहले ही शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने यह कहकर चौंका दिया था कि राहुल गांधी के पास कन्हैया से मिलने का वक्त तो है लेकिन उनके पास उत्तराखंड के नाराज विधायकों से मिलने का टाइम नहीं। यह बयान उन्होंने इस मकसद से दिया था ताकि कांग्रेस के नाराज विधायक उन पर भरोसा कर सकें और उनसे संपर्क स्थापित हो सके। सूत्रों के मुताबिक शंकराचार्य पिछले कुछ दिनों में लगातार कई विधायकों के संपर्क में बने हुए हैं। बुधवार को कांग्रेस की सीनियर लीडर इंदिरा हृदयेश से मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि जब करोड़ों रुपये खर्च करके विधायक बनेंगे तो भ्रष्टाचार पनपेगा ही। हालांकि शंकराचार्य और इंदिरा हृदयेश के बीच हुई बातचीत का ब्योरा सामने नहीं आ सका है।

कांग्रेस के करीबी रहे हैं शंकराचार्य स्वरूपानंद

शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती को सोनिया गांधी समेत कांग्रेस के कई बड़े नेताओं का करीबी माना जाता है। वो आरएसएस, बीजेपी और विश्व हिंदू परिषद के भी मुखर विरोधी रहे हैं। पिछले दिनों शिरडी के साईं बाबा और शनि की पूजा को लेकर उनके बयान की वजह से काफी हंगामा भी मच चुका है।

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , , ,