Loose Views

पीएम मोदी की फर्जी फोटो फैलाकर फंसा IBN पत्रकार

बायीं तरफ वो फर्जी तस्वीर है, जिसे CNN-IBN पत्रकार राघव चोपड़ा ने ट्वीट किया था। जबकि दायीं तरफ पीएम के सऊदी दौरे की असली तस्वीर है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में सोशल मीडिया पर एक झूठी तस्वीर फैलाने के चक्कर में न्यूज चैनल CNN-IBN का एक सीनियर पत्रकार रंगे हाथ पकड़ा गया है। राघव चोपड़ा नाम के इस पत्रकार ने ट्विटर पर एक फोटो जारी की, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी को सऊदी अरब के किंग के पैर छूते दिखाया गया है। यह तस्वीर दरअसल फोटोशॉप की मदद से बनाई गई थी। पीएम मोदी इस समय सऊदी अरब के ही दौरे पर हैं। इस फर्जी फोटो को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने कड़ा एतराज जताया। जिसके बाद सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने जांच के आदेश दे दिए हैं।

विदेशी दौरे पर प्रधानमंत्री के खिलाफ प्रोपोगेंडा!

प्रधानमंत्री जब विदेश में होता है तो वो वहां पूरे देश के प्रतिनिधि के तौर पर होता है। आमतौर पर ऐसे वक्त में प्रधानमंत्री और उसके पद की गरिमा पर किसी हमले की उम्मीद नहीं की जाती। कई नामी हस्तियों ने इस तस्वीर को लेकर ट्विटर पर ऐतराज भी जताया। जिसके बाद दिल्ली से बीजेपी के सांसद महेश गिरी ने ट्विटर पर ही सूचना और प्रसारण मंत्रालय से इसकी शिकायत की। उनके ट्वीट पर जवाब देते हुए सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने मामले की जांच और उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

CfHz3OlW8AIcdCI
पत्रकार राघव चोपड़ा के विवादित ट्वीट का स्क्रीनशॉट



कौन है राघव चोपड़ा?

राघव चोपड़ा सीएनएन-आईबीएन न्यूज़ चैनल में न्यूज एडिटर के पद पर हैं। ट्विटर पर उन्हें आम आदमी पार्टी के मुखर समर्थक के तौर पर जाना जाता है। अपने ट्वीट की सच्चाई सामने आने के बाद राघव ने अपने ट्विटर एकाउंट को प्राइवेट कर लिया है और अपने परिचय में से चैनल का नाम भी हटा दिया है। ट्विटर के अलावा उन्होंने अपना फेसबुक एकाउंट भी डीएक्टिवेट कर दिया है। उन्होंने अपने ट्वीट के बारे में कोई सफाई भी नहीं दी है।

पीएम को मिला सऊदी अरब का सर्वोच्च सम्मान

पीएम मोदी के सऊदी अरब दौरे का रविवार को दूसरा दिन था। वहां के राजा सलमान बिन अब्दुलअजीज अल सऊद ने उन्हें सऊदी अरब के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाजा। सऊदी अरब के करीबी समझे जाने वाले पाकिस्तान के किसी राष्ट्राध्यक्ष को आज तक ये सम्मान नहीं मिला है।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
ये है असली तस्वीर जिसमें आडवाणी को हटाकर सऊदी किंग की तस्वीर डाल दी गई।
ये है असली तस्वीर जिसमें आडवाणी को हटाकर सऊदी किंग की तस्वीर डाल दी गई।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Popular This Week

Don`t copy text!