Loose Top

दिल्ली में केजरीवाल का फ्री वाईफाई फुस्स हो गया!

दिल्ली में हर जगह फ्री वाईफाई देने का अरविंद केजरीवाल सरकार का दावा मुश्किल में लग रहा है। पिछले साल सरकार बनने के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि एक साल के अंदर मुफ्त वाईफाई मिलना शुरू हो जाएगा। एक साल से ज्यादा हो चुके हैं और सरकार के पास कोई पक्का जवाब नहीं है कि ये चुनावी वादा कब पूरा होगा। सूत्रों के मुताबिक इस बारे में जो पायलट टेस्ट किया गया है, वो बुरी तरह फ्लॉप रहा है, जिसे देखते हुए सरकार आगे कदम बढ़ाने से पहले डर रही है।

‘फ्री वाईफाई’ के लगेंगे पैसे!

केजरीवाल सरकार ने ये साफ कर दिया है कि भले ही वादा फ्री वाईफाई का किया गया था, लेकिन ऐसा नहीं होगा। इस पर अमल की जिम्मेदारी पार्टी के विधायक आदर्श शास्त्री को दी गई है। केजरीवाल को उम्मीद थी कि एप्पल में ऊंचे ओहदे पर रहे आदर्श शास्त्री कोई न कोई फॉर्मूला जरूर निकाल लेंगे। लेकिन अब तक ऐसा होता नहीं दिख रहा।

वाईफाई के फॉर्मूले पर सवाल

– दिल्ली सरकार 2MBPS की स्पीड पर 1GB डेटा हर किसी को मुफ्त देने पर विचार कर रही है। हालांकि कंपनियों इसके लिए तैयार नहीं हैं। उनका मानना है कि 1GB डेटा हर किसी को देना कतई व्यावहारिक नहीं है।
– लेकिन डेटा का खर्च इसके ऊपर जाते ही मार्केट रेट से पैसा देना होगा।
– सरकारी आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में अभी 1.64 करोड़ लोग इंटरनेट यूज़ कर रहे हैं। अगर इनके आधे लोग भी डेटा यूज़ करते हैं तो सरकारी खजाने पर काफी बोझ पड़ेगा।
– समस्या ये भी है कि 5 साल में इस वादे पर अमल में 32 हजार करोड़ से ऊपर लगेंगे।
– सरकार चाहती है कि इससे कमाई की जाए, वरना ये ज्यादा दिन चल नहीं पाएगा।
– इस बिजनेस प्लान पर दिल्ली सरकार दुनिया भर की कई बड़ी कंपनियों से बात कर रही है, लेकिन कंपनियां ज्यादा इंटरेस्टेड नहीं दिख रहीं।
– मुश्किल ये भी है कि सरकार चाहती है कि कंपनी फ्री वाईफाई से खुद भी पैसे कमाए और उसे भी दे।

फ्री वाईफाई में हैं कई मुश्किलें

दरअसल दिल्ली में सिर्फ एक तिहाई इलाकों में फाइबर बिछा हुआ है। इसके बिना अगर वाईफाई दिया गया तो स्पीड इतनी कम होगी कि कोई फायदा नहीं होगा। यही वजह है कि बजट में वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने भी इस बात का इशारा कर दिया कि फिलहाल मुफ्त के आसार नहीं हैं। उन्होंने कहा कि ‘कुछ बसों, बुराड़ी इलाके और एनडीएमसी इलाके में वाईफाई पर पायलट प्रोजेक्ट चल रहा है। पूरे अध्ययन के बाद ही आगे के तौर-तरीके पर फैसला किया जाएगा।’

दिल्ली मेट्रो का वाईफाई पहले ही शुरू

केजरीवाल सरकार अभी तैयारी में ही जुटी है, उधर दिल्ली मेट्रो ने अपने राजीव चौक और कश्मीरी गेट स्टेशनों पर मुफ्त वाईफाई शुरू भी कर दिया है। इन दोनों स्टेशनों पर शुरुआती परफॉर्मेंस अच्छी रही है। मेट्रो अब इसे अपने बाकी स्टेशनों पर भी शुरू करने वाली है। ऐसे में केजरीवाल सरकार के लिए अपने चुनावी वादे पर पूरी तरह अमल करके दिखाने की चुनौती और बढ़ गई है।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:
Donate with

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Popular This Week

Don`t copy text!