Home » Loose Top » 9000 करोड़ वाले को मलाई, 9000 वाले की पिटाई
Loose Top Viral Videos

9000 करोड़ वाले को मलाई, 9000 वाले की पिटाई

एक तरफ विजय माल्या बैंकों से 9000 करोड़ रुपये कर्ज लेकर रफूचक्कर हो गए, दूसरी तरफ तमिलनाडु में एक गरीब किसान की लोन न चुका पाने पर न सिर्फ जमकर पिटाई की गई, बल्कि पुलिस की मदद से बैंक के अधिकारी उसका ट्रैक्टर भी छीन ले गए। ये घटना है तमिलनाडु के तंजावुर जिले की। किसान का ट्रैक्टर छीनने की घटना का किसी ने अपने मोबाइल फोन से वीडियो बना लिया। ये वीडियो सामने आने के बाद से हंगामा मचा हुआ है। देखिए कैसे पुलिस और बैंक के अधिकारियों ने पूरे गांव के सामने किसान से जबरन उसका ट्रैक्टर छीन लिया।


सिर्फ दो किस्त न दे पाने की सज़ा

40 साल के जी बालन नाम के इस किसान की गलती सिर्फ यह थी कि वह कुल 9000 रुपये की दो किस्ते जमा नहीं कर पाया था। ट्रैक्टर के लिए उसने कोटक महिंद्रा बैंक से 3.80 लाख रुपये लोन लिए थे। अब तक वो कुल 4.11 लाख रुपये चुका है। अब भी उस पर 1.30 लाख का लोन बाकी है। फसल खराब होने की वजह से दो महीने से वो ईएमआई नहीं चुका पा रहा था, जिसके बाद बैंक के अधिकारी पुलिस की मदद से उसका ट्रैक्टर उठा ले गए। जो वीडियो फुटेज सामने आई है, उसमें पुलिस वालों को किसान की पिटाई करते भी देखा जा सकता है। बालन का कहना है कि पिछले दो साल से मेरी फसल चौपट हो जा रही है। पिछले साल मैं दो किस्ते नहीं दे पाया था। मैंने बैंक के अधिकारियों से कहा था कि वो मुझे कुछ मोहलत दें, ताकि मैं पैसों का इंतजाम कर सकूं। लेकिन वो कुछ भी सुनने को तैयार नहीं हुए।

पुलिस का पिटाई करने से इनकार

हालांकि जिले के एसपी ने इस बात से इनकार किया है कि किसान के साथ मारपीट की गई। उनका कहना है कि बैंक के पास कोर्ट के ऑर्डर थे, जिसके आधार पर पुलिस गई थी। हालांकि यह साफ नहीं है कि ऐसी क्या हड़बड़ी थी कि एक मामूली सी रकम की वसूली के लिए बैंक से लेकर पुलिस तक इतने सक्रिय हो गए, जबकि बड़े कर्जदारों के साथ कभी इतनी सख्ती नहीं बरती जाती।
(यह खबर में दिए गए तथ्य किसान के दावों के आधार पर दिए गए हैं, हम इनकी सच्चाई की पुष्टि नहीं कर सकते। साथ ही इस बारे में अभी बैंक का पक्ष भी नहीं मिला है।)

एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए:

OR

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।

comments

Polls

क्या नरेंद्र मोदी सरकार इसी कार्यकाल में जनसंख्या कानून लाएगी?

View Results

Loading ... Loading ...

Donate to Newsloose.com

न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए:

OR

Popular This Week

Don`t copy text!