मोदी सरकार के भी दामाद बने रहेंगे रॉबर्ट वाड्रा!

अब ये लगभग साफ हो गया है कि सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा के ‘अच्छे दिन’ बने रहेंगे। कुछ दिन पहले खबर आई थी कि वाड्रा को उन वीवीआईपी की लिस्ट से हटा दिया गया है, जिनको एयरपोर्ट पर तलाशी करवाने की जरूरत नहीं पड़ती। लेकिन टाइम्स ऑफ इंडिया अखबार में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक फिलहाल रॉबर्ट वाड्रा को मिली छूट जारी रहेगी।

क्या है पूरा मामला

गृह मंत्रालय ने सिविल एविएशन मंत्रालय को एक लेटर भेजा है, जिसमें लिखा गया है कि तीन तरह के यात्रियों को तलाशी से छूट मिली हुई है। एसपीजी सिक्योरिटी पाने वाले लोग, दलाई लामा और रॉबर्ट वाड्रा। गृह मंत्रालय ने अब ये सिविल एविएशन मंत्रालय पर छोड़ दिया है कि वो ये तय करें कि इन तीन कैटेगरी में से किसी की तलाशी की जरूरत है या नहीं। एविएशन मंत्रालय की दुविधा इस बात से है कि पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार के लोगों को एपीजी सुरक्षा मिलती है। इस लिहाज से रॉबर्ट वाड्रा का नाम इस लिस्ट में भी आ जाएगा।

वाड्रा को मिलती रहेगी छूट

इस कनफ्यूज़न की वजह से एविएशन मंत्रालय ने अभी तक एयरपोर्ट की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार एजेंसियों को ये आदेश नहीं भेजा है कि रॉबर्ट वाड्रा का नाम तलाशी से छूट पाने वालों की लिस्ट से हटा दिया जाए। फिलहाल इस मुद्दे पर एक मंत्रालय से दूसरे मंत्रालय फाइलें दौड़ रही हैं और तब तक रॉबर्ट वाड्रा मोदी सरकार के भी दामाद बने रहेंगे।

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , ,