जब अबू धाबी में पीएम मोदी की तस्वीरों को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर उड़ा मज़ाक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने पब्लिक अपियरेंस और तस्वीरों को लेकर बहुत सावधानी बरतते हैं। चलने-फिरने, हाव-भाव और अभिवादन तक का उनका अंदाज ऐसा होता है कि फोटो का एक-एक फ्रेम परफेक्ट रहे। लेकिन जैसा कि सबके साथ होता है कि कभी-कभी फोटो खींचते वक्त कोई ऐसा एंगल या लम्हा कैद हो जाता है जिससे अर्थ का ही अनर्थ हो जाए। इन खराब तस्वीरों को फोटोग्राफी की भाषा में NG (Not good) फोटो कहते हैं। अक्सर ऐसी तस्वीरें डिलीट कर दी जाती हैं, लेकिन सोशल मीडिया के दौर में इन तस्वीरों का महत्व बढ़ गया है, क्योंकि इनके बहाने जोक्स बनाने और मज़ाक उड़ाने का मौका मिल जाता है। लेकिन क्या हो अगर ऐसी तस्वीरें सरकार की ऑफिशियल फोटो एजेंसी पीआईबी ही जारी कर दे। यूएई के दौरे पर गए प्रधानमंत्री मोदी अबू धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयेन से प्रोटोकॉल तोड़कर गले भी मिले। तो उसके एक-एक फ्रेम की तीन तस्वीरें पीआईबी ने अपनी वेबसाइट पर अपलोड कर दी। अगर इसका वीडियो देखें तो आपको कुछ भी गलत नहीं दिखेगा, लेकिन जब फ्रेम-टु-फ्रेम फोटो देखें तो थोड़ा अजीब लग सकता है। हुआ भी ऐसा ही पीएम की इन तस्वीरों को लेकर सोशल मीडिया में मज़ाक शुरू हो गया। थोड़ी ही देर में पीआईबी को गलती का एहसास हुआ और तीनों तस्वीरें वेबसाइट से हटा दी गईं। लेकिन तब तक ये तस्वीरें फैल चुकी थीं। लोगों ने तरह-तरह के कैप्शन लगाकर खूब मज़ाक उड़ाया।

नीचे स्लाइड शो में देखिए पीएम मोदी की कुछ पहले की तस्वीरें, जिनका मज़ाक उड़ा।

[espro-slider id=1085]

कृपया लेख कॉपी-पेस्ट न करें। कई लोग पोस्ट कॉपी करके फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर देते हैं, जिससे वेबसाइट की आमदनी काफी कम हो गई है। राष्ट्रवाद की विचारधारा पर आधारित यह वेबसाइट बंद हो जाएगी तो क्या आपको खुशी होगी? कृपया खबरों का लिंक शेयर करें।
एक अपील: न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , , ,

Don`t copy text!