केजरीवाल सरकार की चूक की वजह से दिल्ली में तिगुनी कीमत पर बिक रहा है प्याज!

दिल्ली में प्याज की कीमतें आसमान में हैं और इसके पीछे दिल्ली सरकार की एक बड़ी चूक सामने आई है। नैफेड और केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने अप्रैल और मई महीनों के दौरान टोटल तीन चिट्ठियां केजरीवाल सरकार को लिखी थीं, जिनमें बताया गया था कि आने वाले दिनों में प्याज की कीमतों में उछाल का डर है। इसलिए वो चाहें तो सस्ती दर पर प्याज खरीदकर स्टोर कर लें। तब जो प्याज मिल रही थी वो सिर्फ 19 रुपये किलो के भाव थी, लेकिन दिल्ली सरकार ने प्याज नहीं लिया। नैफेड की इन चिट्ठियों का केजरीवाल सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया था।

दिल्ली सरकार की सफाई

उधर दिल्ली के फूड एंड सिविल सप्लाई मिनिस्टर आसिम अहमद खान का कहना है कि हम 19 रुपए किलो प्याज खरीदने को तैयार हैं। लेकिन अब बहुत देर हो चुकी है। मार्केट में प्याज 60 रुपये किलो से ऊपर जा चुका है।

40 रुपये की सरकारी प्याज का क्या फायदा?

उधर दिल्ली सरकार ने स्टॉल लगाकर 40 रुपये किलो प्याज बेचने का एलान किया है। लेकिन सच्चाई यही है कि इस रेट या इससे कम पर प्याज दिल्ली के बाहर नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुड़गांव की थोक मंडियों में पहले से बिक रहा है। दिल्ली सरकार ने अगर वक्त रहते फैसला ले लिया होता तो आज उसके पास जनता को बेचने के लिए 20 रुपये किलो का प्याज होता। [corner-ad id=1]

एक अपील: देश और हिंदुओं के खिलाफ पत्रकारिता के इस दौर में न्यूज़लूज़ के जरिए हम राष्ट्रवादी पत्रकारिता को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर होने वाला खर्च बहुत ज्यादा है और हमारी आमदनी काफी कम। हम अपने काम को जारी रख सकें इसके लिए हमें आर्थिक मदद की जरूरत है। ये हमारे लिए ऑक्सीजन का काम करेगी। डोनेट करने के लिए क्लिक करें:

comments

Tags: , , ,